कम हो रहे केस मगर बढ़ रही मौतें

Coronavirus
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। कोरोना की दूसरी लहर ने बीते दिनों भारत में जमकर कोहराम मचाया। लेकिन पिछले कुछ दिनों के आंकड़े इस बात की गवाही दे रहे हैं कि अब ये लहर कमजोर होने लगी है। नए मामलों में कमी आ रही है, रिकवरी रेट बढ़ रहा है, लेकिन मौतों की संख्या अभी भी चिंता का विषय है. ऐसे में सवाल है कि आखिर ऐसा क्यों है कि केस कम होने के बावजूद भी कोविड से हो रही मौतों की संख्या अभी अधिक ही है, एक्सपर्ट्स ने इस सवाल का जवाब दिया है।

भारत में कोरोना वायरस की दूसरी लहर का पीक 6 मई को दिखाई दिया, जब देश में 4.16 लाख नए केस दर्ज किए गए. लेकिन अब ये रफ्तार धीमी होने लगी है, इसी हफ्ते 2.65 लाख तक केस पहुंचे और अब इसी के आसपास नए केस आ रहे हैं। लेकिन नए मामलों में कमी के बावजूद कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा बढ़ ही रहा है.

भारत में 18 अप्रैल को 1620 मौतें दर्ज की गई, उसके बाद से ये संख्या लगातार बढ़ी है। 18 मई को देश में 4500 से अधिक मौत दर्ज की गई, जो अबतक का रिकॉर्ड था। लेकिन 20 मई को एक बार फिर 4 हजार से नीचे आंकड़ा पहुंचा है।

मौतों की संख्या, कम होते मामले में फर्क क्यों?

एक्सपर्ट्स की मानें तो, भारत में अभी ही कोविड के मामलों में रिकवरी शुरू हुई है, जबकि मौतों की संख्या बराबर शुरू हो रही है। ऐसे में एक्सपर्ट्स के मुताबिक, इस ट्रेंड को ठीक होने में 15 दिन का वक्त लगेगा। क्योंकि अब जो कम संख्या सामने आ रही है|

अगले महीने तक रोजाना हो सकेंगे 45 लाख टेस्ट

नई दिल्ली (एजेंसी)। केंद्र सरकार ने कहा है कि इस माह के आखिर तक हमारे पास 25 लाख टेस्ट प्रतिदिन और अगले महीने तक 45 लाख टेस्ट प्रतिदिन करने की क्षमता हो जाएगी। आईसीएमआर के प्रमुख डॉ. बलराम भार्गव ने कहा कि संक्रमण कम हो रहा है। लेकिन अभी भी हम दूसरे वेव के बीच में हैं। भार्गव ने कहा कि जहां 10% से ज्यादा पॉजिटिविटी रेट है वहां कंटेनमेंट नियमों का सख्ती से पालन कराने की आवश्यकता है। भार्गव ने कहा कि देश में 12-13 लाख आरटीपीसीआर टेस्ट और 17-18 लाख एंटीजन टेस्ट की क्षमता है। उन्होंने कहा कि मैं लोगों से कहूंगा की वो एंटीजन टेस्ट करवाएं। उसमें रिजल्ट तुरंत मिल जाता है और तुरंत हम आइसोलेट करके इलाज शुरू कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि हमने सभी राज्यों को टेस्टिंग बढ़ाने के लिए लिखा है। भार्गव ने कहा कि होम टेस्टिंग की एक कंपनी को हमने इजाजत दी है। उसमें सबसे पहले आपको केमिस्ट शॉप से टेस्ट किट खरीदना है। फिर मोबाइल से ऐप डाउनलोड करना है, उसके बाद रजिस्टर करना है और यूजर मैन्युअल को पढऩा है।


Share