टेस्ट कप्तानी के लिए तैयार बुमराह

Bumrah ready for Test captaincy
Share

पार्ल (एजेंसी)। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज से पहले टीम इंडिया के उपकप्तान जसप्रीत बुमराह ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस में कई अहम बातें कही हैं। बुमराह ने कहा है कि मौका मिलने पर वो टेस्ट में भारत की कप्तानी करने के लिए तैयार हैं। वहीं विराट के ऊपर बात करते हुए बुमराह ने बताया वो अभी भी कप्तानी में लोकेश राहुल की मदद करते रहेंगे और बड़े फैसले लेने में उनका योगदान रहेगा। सिराज की फिटनेस पर उन्होंने बताया कि वो ठीक हो चुके हैं और वनडे सीरीज में खेलने के लिए पूरी तरह से फिट हैं।

अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज के तीसरे मैच के दौरान सिराज की मांसपेशियों में खिंचाव हुआ था और इसके बाद उन्हें गेंदबाजी करने में काफी परेशानी आई थी। इसके बाद उनके वनडे सीरीज में खेलने पर संशय बना हुआ था। हालांकि बुमराह ने बताया है कि वो फिट हो चुके हैं और टीम के साथ तैयारी कर रहे हैं।

‘हम विराट के फैसले का सम्मान करते हैं’: बुमराह ने विराट के टेस्ट कप्तानी छोडऩे के सवाल पर कहा कि यह उनका व्यक्तिगत निर्णय है और हम इसका सम्मान करते हैं। मैंने उनकी कप्तानी में अपना पहला टेस्ट खेला था। वो कप्तानी में मदद करते रहेंगे। वो अपने सुझाव देते रहेंगे। बेशक हमें टीम मीटिंग में इस बारे में बताया गया था। इसके बाद ही विराट ने सार्वजनिक तौर पर इसका एलान किया। वहीं टेस्ट कप्तानी के सवाल पर उन्होंने कहा कि अगर मौका मिलता है तो वो निश्चित रूप से ऐसा करना चाहेंगे। लेकिन वो इसके पीछे नहीं भाग रहे हैं।

‘फील्ड सेटिंग में राहुल की मदद करूंगा’

वनडे टीम का उपकप्तान बनाए जाने पर बुमराह ने कहा, मैं जितनी मदद कर सकता हूं करूंगा। फील्ड सेट करने में राहुल की मदद करूंगा। मैं अतिरिक्त जिम्मेदारी का दबाव नहीं लूंगा। हर किसी को जिम्मेदारियां लेना पसंद होता है। मैं जिस तरीके से योगदान दे सकता हूं, दूंगा। जब मैं एक गेंदबाज के रूप में आया था, तब मैं काफी सवाल पूछता था। इसलिए जब युवा खिलाड़ी अंदर आते हैं तो मैं जवाब देना पसंद करता हूं, क्योंकि मैं उनके सुझावों से सीख सकता हूं।

‘कप्तान बदलने से ज्यादा फर्क नहीं पड़ता’

भारत का कप्तान बदलने पर टीम में क्या फर्क पड़ता है। इस सवाल के जवाब में बुमराह ने कहा कि मुझे इससे कोई खास फर्क नहीं पड़ता। यह जरूरी है कि टीम में सभी लोग बदलाव को किस तरह से ले रहे हैं। हर खिलाड़ी जितना ज्यादा योगदान दे सकता है, उस बारे में सोच रहा है। एक टीम के रूप में हम सकारात्मक हैं और अपना योगदान देने के लिए आतुर हैं। वहीं 2023 वल्र्डकप को लेकर उन्होंने कहा कि तैयारियां 2023 वल्र्डकप को ध्यान में रखकर ही की जा रही हैं, लेकिन हर सीरीज को अहमियत देने की कोशिश रहेगी।


Share