माइक्रो प्लानिंग कर नीचे लाएं संक्रमण का ग्राफ : मुख्यमंत्री

माइक्रो प्लानिंग कर नीचे लाएं संक्रमण का ग्राफ : मुख्यमंत्री
Share

जयपुर (कासं)। मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत ने कहा है कि प्रदेश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते ग्राफ को नीचे लाना सरकार का प्रमुख लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि माइक्रो प्लानिंग कर हमें संक्रमण को हर हाल में नीचे लाना है।  गहलोत गुरूवार को मुख्यमंत्री निवास से वीडियो कांफ्रेंस के जरिए कोरोना प्रबंधन की उच्च स्तरीय समीक्षा कर रहे थे।

सैंपलिंग बढ़ाएं

गहलोत ने कहा कि कोरोना संक्रमण रोकने के लिए हमें शहरों के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों में भी सैंपलिंग तथा डोर-टू-डोर स्क्रीनिंग पर जोर देना होगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान में जिस प्रकार कोरोना केसेज तथा इसके संक्रमण का खतरा बढ़ा है, उसे देखते हुए ही राज्य सरकार ने 8 जिला मुख्यालयों पर रात्रिकालीन कफ्र्यू, वैवाहिक समारोहों में लोगों की उपस्थिति 100 तक ही सीमित रखने, इसके उल्लंघन करने तथा मास्क नहीं पहनने पर जुर्माना बढ़ाने जैसे सख्त कदम उठाएं हैं। कोविड के खतरे से बचने के लिए लोगों को इनकी पालना करना जरूरी है। उन्होंने कहा कि जहां-जहां भी सोशल डिस्टेंसिंग तथा हैल्थ प्रोटोकॉल की पालना में लापरवाही हो रही है वहां प्रशासन सख्त कार्रवाई करे।

ऑनलाइन लें शादी समारोहों की सूचना

गहलोत ने कहा कि जिला प्रशासन यह सुनिश्चित करे कि विवाह एवं अन्य समारोहों में कहीं भी लोगों की संख्या के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन न हो। उन्होंने कहा कि विवाह के आयोजन की सूचना देने के लिए लोगों को परेशान न होना पड़े और इसके लिए कहीं भी भीड़ न उमड़े। उन्होंने कहा कि शादी के आयोजन के लिए किसी अनुमति की आवश्यकता नहीं है, सिर्फ पूर्व सूचना देना जरूरी किया गया है। इसके लिए ई-मेल या कोई अन्य ऑनलाइन व्यवस्था सुनिश्चित की जाए।


Share