बॉम्बे हाईकोर्ट ने तोडफ़ोड़ पर लगाई रोक – बीएमसी ने पहले ही ध्वस्त कर दिया

बॉम्बे हाईकोर्ट ने तोडफ़ोड़ पर लगाई रोक
Share

मुंबई (कार्यालय संवाददाता)। मुंबई की तुलना पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) से करना कंगना रनौत को मंहगा पड़ता दिख रहा है। कंगना रनौत के मुंबई पहुंचने से पहले ही बीएमसी ने कार्रवाई करते हुए कंगना के दफ्तर के कथित अवैध निर्माण को ध्वस्त कर दिया। हालांकि, बीएमसी की ओर से बांद्रा वेस्ट के पाली हिल रोड पर स्थित कंगना रनौत के दफ्तर के कथित अवैध निर्माण को तोडऩे के लिए जेसीबी और हथौड़े के साथ बीएमसी की टीम पहुंची थी। इस दफ्तर को गिराने का काम सुबह 11 बजे के कुछ देर बाद शुरू हुआ था। बीएमसी की टीम बुलडोजर और जेसीबी मशीने लेकर बांद्रा के पाली हिल बंगले पर पहुंची और कंगना के दफ्तर में कथित अवैध ढांचे को गिरा दिया। बता दें कि बीएमसी ने जवाब देने के लिए कंगना को 24 घंटे का समय दिया था।

कंगना के दफ्तर के बाहर से जो तस्वीरें और वीडियो सामने आए, उसमें बड़ी संख्या में बीएमसी के कर्मचारी और पुलिस वाले दिखे। इस बीच कंगना रनौत ने बीएमसी की कार्रवाई के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया, जहां से राहत मिली है। अपने दफ्तर पर बीएमसी की कार्रवााई के खिलाफ कंगना के वकील ने हाईकोर्ट में एक याचिका दायर की, जिस पर हाईकोर्ट ने कंगना के दफ्तर में तोडफ़ोड़ पर रोक लगा दी है और बीएमसी से जवाब मांगा है।
इससे पहले बीएमसी ने कंगना के पाली हिल वाले ऑफिस को लेकर नोटिस जारी कर कहा कि ऑफिस के निर्माण में करीब 8-10 उल्लंघन किए गए हैं। बीएमसी इस बारे में 24 घंटे के अंदर उनसे जवाब चाहती है। अगर एक्ट्रेस जवाब नहीं देती हैं तो ऑफिस के उन हिस्सों पर बुलडोजर चलाया जाएगा।

कंगना ने अपने ट्विटर अकाउंट पर कुछ तस्वीरें शेयर की हैं, जिनमें उनके मुताबिक पुलिस और बीएमसी के लोग हथौड़ा और बुलडोजर के साथ दिख रहे हैं। इन तस्वीरों के साथ कंगना ने लिखा- बाबर और उसकी सेना
आगे उन्होंने एक और ट्वीट किया और फोटो के साथ पाकिस्तान शब्द का इस्तेमाल किया। उन्होंने लिखा, -मैं कभी गलत नहीं हूं और मेरे दुश्मन बार-बार साबित कर देते हैं। यही कारण है कि मेरा मुंबई अब पीओके है।

‘याद रख बाबर, यह मंदिर फिर बनेगा

दफ्तर तोड़े जाने को लेकर कंगना ने ट्वीट कर कहा, मणिकर्णिका फिल्म्ज में पहली फिल्म अयोध्या की घोषणा हुई, यह मेरे लिए एक इमारत नहीं राम मंदिर ही है, आज वहां बाबर आया है, आज इतिहास फिर खुद को दोहराएगा राम मंदिर फिर टूटेगा मगर याद रख बाबर यह मंदिर फिर बनेगा यह मंदिर फिर बनेगा, जय श्री राम, जय श्री राम, जय श्री राम।
कंगना रनौत का यह ऑफिस (मणिकर्णिका फिल्म्स प्राइवेट लिमिटेड) ग्राउंड फ्लोर के साथ दो फ्लोर ऊपर तक बना है। जब बीएमसी ने ऑफिस के निर्माण का ढांचा देखा तो पाया कि यह 1970 के रिकॉर्ड में शामिल है। बीएमसी का आरोप है कि ऑफिस के निर्माण के दौरान कई उल्लंघन किए गए हैं। कई जगहों को गलत तरीके से बढ़ाया गया है।


Share