असम में बहुमत से वापस आएगी भाजपा – एबीपी और सी-वोटर सर्वे

असम में बहुमत से वापस आएगी भाजपा - एबीपी और सी-वोटर सर्वे
Share

दिसपुर (एजेंसी)। असम, बंगाल समेत पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए तारीखों का ऐलान किया जा चुका है। अब तकरीबन सभी लोगों की नजरें वोटिंग और नतीजों पर टिक गई हैं। असम में तीन फेज में होने वाली वोटिंग से पहले राज्य के लिए ओपिनियन पोल सामने आया है। पोल के मुताबिक, भाजपा गठबंधन के सत्ता में फिर से वापसी करने का अनुमान है।  126 सीटों में से भाजपा के खाते में 76 सीटें तक जा सकती हैं। वहीं, कांग्रेस गठबंधन को 51 सीटें मिल सकती हैं। न्यूज चैनल एबीपी और सर्वे एजेंसी सी-वोटर ने असम विधानसभा चुनाव के लिए यह ओपिनियन पोल किया है। भाजपा गठबंधन को 42 फीसदी मत मिलने  का अनुमान लगाया गया है। कांग्रेस गठबंधन को 31 फीसदी मत हासिल हो सकते हैं। जबकि अन्य के खाते में 27 फीसदी वोट जा सकते हैं। पोल के अनुसार, भाजपा गठबंधन को 68-76 के बीच में सीटें मिल सकती हैं। कांग्रेस के अगुवाई वाले गठबंधन को 43-51 सीटें और अन्य को 5-10 सीटें मिलने का अनुमान है।

वहीं, असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनेवाल को जनता एक बार फिर से राज्य का अगला मुख्यमंत्री देखना चाहती है। ओपिनियन पोल के अनुसार, 44 फीसदी लोगों ने सर्वे में सर्बानंद सोनेवाल पहली पसंद के मुख्यमंत्री बनकर उभरे हैं। दूसरे नंबर पर पूर्व मुख्यमंत्री तरूण गोगोई के बेटे गौरव गोगोई हैं, जिनके लिए 26 फीसदी लोगों ने वोट दिया। तीसरे नंबर पर 15 फीसदी वोटों के साथ हेमंत बिस्व शर्मा हैं।

असम में पिछली बार 2016 में विधानसभा चुनाव हुए थे। भाजपा की अगुवाई वाली सरकार ने 15 वर्षों से राज्य में चली आ रही तरूण गोगोई की कांग्रेस सरकार को पराजित कर सरकार बनाई थी। भाजपा को 60, कांग्रेस को 26, असम गण परिषद को 14 सीटों पर जीत मिली थी। इसके अलावा, ऑल इंडिया यूनाइटेड डेमोक्रेटिक फ्रंट 13, बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट ने 12 सीटों पर जीत हासिल की थी। एक निर्दलीय भी जीतने में कामयाब हो सका था।


Share