बिहार चुनाव : एनडीए में हुआ सीट बंटवारा

बिहार में निर्दलियों की घटती जा रही अहमियत
Share

पटना (एजेंसी)। बिहार में सत्ताधारी एनडीए गठबंधन की ओर से सीट बंटवारे के ऐलान कर दिया गया है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बताया कि जदयू इस बार 122 सीटों पर चुनाव लड़ेगी, भाजपा के खाते में 121 सीटें गई हैं। जीतनराम मांझी की हम पार्टी को जदयू कोटे से 7 सीटें दी गई हैं। वहीं भाजपा अपने कोटे से मुकेश सहनी की पार्टी वीआईपी को सीट देगी। नीतीश कुमार ने कहा कि हमारा काम बिहार की जनता की सेवा करना है। हमारे बारे में कौन क्या बोल रहा इससे फर्क नहीं पड़ता।

नीतीश ने कहा- बिहार में एलजेपी की दो ही सीटें हैं ना

चिराग पासवान पर निशाना साधते हुए नीतीश कुमार ने कहा कि रामविलास पासवान की मैं इज्जत करता हूं। उनके जल्दी स्वस्थ होने की कामना करता हूं। मैं पूछता हूं कि रामविलास पासवान जो राज्यसभा गए हैं वह क्या जदयू की मदद के बिना ही पहुंचे हैं? बिहार में एलजेपी की 2 ही सीटें हैं ना।

बिहार को आगे बढ़ाना हमारा लक्ष्य : नीतीश

नीतीश कुमार ने कहा कि हमारे मन में कोई गलतफहमी नहीं है। बिहार को आगे बढ़ाना है, यही हमारा लक्ष्य है। उन्होंने विपक्षी पार्टी खास तौर से राजद पर जमकर निशाना साधा, कहा कि राजद के शासन काल में कोई काम नहीं हुआ। पटना में भाजपा-जदयू की संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस में भाजपा प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने फिर कहा कि नीतीश कुमार ही एनडीए के नेता हैं।

‘बिहार एनडीए में वही रहेगा जो नीतीश को नेता मानेगाÓ

बिहार के डिप्टी सीएम सुशील मोदी ने कहा कि बिहार एनडीए में वही रहेगा जो नीतीश कुमार को नेता मानेगा। एनडीए ही प्र.म. मोदी की तस्वीर का इस्तेमाल करेगा। जरूरत हुई तो चुनाव आयोग से इसकी शिकायत की जाएगी। बिहार भाजपा प्रभारी भूपेंद्र यादव ने कहा कि इस बार बिहार में एनडीए को तीन-चौथाई बहुमत मिलने वाला है।

नीतीश कुमार ने राजद पर साधा निशाना

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान नीतीश कुमार ने कहा कि सबको मालूम है कि हम लोग अगर 15 साल से काम कर रहे हैं और उसके पहले जिन लोगों को 15 साल काम करने का मौका मिला उसकी तुलना देख सकते हैं। पहले के 15 साल में क्या आर्थिक स्थिति थी, क्या कानून की हालत थी, कितने बड़े पैमाने पर हत्याएं होती थी। सामूहिक नरसंहार जैसी घटनाएं होती थी।

दंगे होते थे, सारी बातें सबको मालूम है। हम लोगों ने किस तरह से काम किया यह सबको पता है। हमने बिहार में कितना काम किया है, यह सबके सामने है।

 


Share