दुपहिया वाहन चालकों के लिये बड़ी खबर !

दुपहिया वाहन चालकों के लिये बड़ी खबर !
Share

दुपहिया वाहन चालकों के लिये बड़ी खबर ! सरकार ने दोपहिया वाहनों के लिए नए दिशा-निर्देश जारी किए

केंद्र सरकार ने यातायात उल्लंघन और सड़क दुर्घटना की जांच के लिए कई उपाय किए हैं।  इसने सड़क सुरक्षा के कई नियमों को बदल दिया है, साथ ही इसने कुछ नियम बनाए हैं।  हाल ही में, सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने दो पहिया वाहनों की सवारी करने वाले लोगों के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए हैं।

ये है नये नियम –

  • बाइक के दोनों तरफ ड्राइवर की सीट के पीछे हाथ पकड़ने वाला स्टैंड़ होगा। इसका उद्देश्य पीछे बैठे लोगों की सुरक्षा करना है। अब तक ज्यादातर बाइक्स में यह सुविधा नहीं थी। इसके साथ ही बाइक के पीछे बैठने वालों के लिए दोनों तरफ से पायदान अनिवार्य कर दिया गया है।
  • इसके अलावा बाइक के रियर व्हील के बाईं ओर कम से कम आधे हिस्से को सुरक्षित रूप से कवर किया जाएगा ताकि रियर सीटर के कपड़े रियर व्हील में  न उलझें।
  • यदि कंटेनर को पिछली सवारी के स्थान पर रखा गया है, तो केवल चालक को मंजूरी दी जाएगी। मतलब कोई दूसरा व्यक्ति उस बाइक पर नहीं बैठ सकेगा। सरकार समय-समय पर इन नियमों में बदलाव करेगी।
  • इसके साथ ही मंत्रालय ने बाइक में कंटेनर लगाने के लिए दिशानिर्देश भी जारी किए हैं। इस कंटेनर की लंबाई 550 मिमी, चौड़ाई 510 मिलीलीटर और ऊंचाई 500 मिमी से अधिक नहीं होगी।

हाल ही में, सरकार ने टायरों को लेकर एक नई गाइडलाइन भी जारी की है। इसके तहत अधिकतम 3.5 टन वजन वाले वाहनों के लिए टायर प्रेशर मॉनिटरिंग सिस्टम का सुझाव दिया गया है।

इस प्रणाली में सेंसर के माध्यम से, चालक को वाहन के टायर में हवा की स्थिति के बारे में जानकारी मिलती है।  इसके साथ ही मंत्रालय ने टायर मरम्मत किटों की भी सिफारिश की है।  इसकी शुरुआत के बाद, वाहन को अतिरिक्त टायर की आवश्यकता नहीं होगी।


Share