चीनी टैंक पर बैठकर बाजवा ने दी भारत को धमकी

चीनी टैंक पर बैठकर बाजवा ने दी भारत को धमकी
Share

इस्लामाबाद (एजेंसी)। नेपाल की तरह चीन के उकसावे में आकर पाकिस्तान भी भारत को बार-बार हेंकड़ी दिखाने से बाज नहीं आ रहा है। पूर्वी लद्दाख को लेकर भारत और चीन के बीच जंग जैसे हालात के चलते ड्रैगन का ‘आयरन ब्रदर’ पाकिस्तान ‘टू फ्रंट वॉर’ की तैयारी मे लगा है। भारत-चीन तनाव के बीच पाकिस्तानी के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने बुधवार को पंजाब प्रांत में स्थित फील्ड फायरिंग रेंज का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने चीन के तीसरे पीढ़ी के मेन बैटल टैंक वीटी-4 के प्रदर्शन का जायजा लिया। जनरल बाजवा ने कहा कि पाकिस्तानी सेना प्रत्येक उभरती हुई चुनौती और क्षेत्रीय खतरे से निपटने के लिए तैयार है।

भारत का नाम लिए बगैर उन्होंने कहा कि देश की सुरक्षा और संप्रभुता पर अगर आंच आई तो हम इसका करारा जवाब देंगे। जनरल बाजवा ने दावा किया कि चीनी टैंक भविष्य में आक्रामक कार्रवाई में बेहद मददगार साबित होगा।

चीनी टैंक दुनिया के सबसे आधुनिक टैंक में से एक है। इसमें हमला करने के साथ-साथ सुरक्षा और बचाव के भी सभी हाईटेक उपकरण लगे हुए हैं। जनरल बाजवा ने कहा कि पाकिस्तानी सेना प्रत्येक उभरती हुई चुनौतियों और क्षेत्रीय खतरे से निपटने के लिए तैयार है। बता दें कि भारत-चीन तनाव के बीच जनरल जावेद बाजवा ने पिछले दिनों अपने शीर्ष जनरलों के साथ रावलपिंडी स्थित सेना मुख्यालय में बैठक की।

इस बैठक में जनरल बाजवा ने कहा कि पाकिस्तानी सेना रणनीतिक और क्षेत्रीय हालात को ध्यान में रखते हुए जंग की अपनी तैयारी के स्तर को बढ़ा दे। उन्होंने कहा, हम इस खतरे से वाकिफ हैं और देश की मदद से इस जंग को निश्चित रूप से जीतेंगे। भारत का नाम लिए बिना बाजवा ने कहा कि अगर हमारे ऊपर युद्ध थोपा गया तो हम हर एक आक्रामक कार्रवाई का करारा जवाब देंगे।

इससे पहले पाकिस्तान सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा और आईएसआई प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल फैज हमीद ने बहुदलीय सम्मेलन से महज कुछ दिनों पहले प्रमुख विपक्षी नेताओं के साथ एक गोपनीय बैठक की और उनसे प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ अपने सियासी मतभेदों में सेना का नाम घसीटने से बचने को कहा। मीडिया में आई एक खबर में मंगलवार को यह जानकारी दी गई।

 


Share