बाबुल सुप्रियो का राजनीति से संन्यास- मोदी मंत्रिमंडल से हटाए गए थे लोकसभा सीट भी छोड़ेंगे

बाबुल सुप्रियो का राजनीति से संन्यास- मोदी मंत्रिमंडल से हटाए गए थे लोकसभा सीट भी छोड़ेंगे
Share

कोलकाता (एजेंसी)। पश्चिम बंगाल से भारतीय जनता पार्टी के सांसद बाबुल सुप्रियो ने राजनीति से संन्यास लेने का एलान किया है। उन्होंने फेसबुक पर लिखी एक पोस्ट में अपने ‘मन की बातÓ साझा की है। उन्होंने लिखा कि अलविदा। मैं किसी राजनीतिक दल में नहीं जा रहा हूं। टीएमसी, कांग्रेस, सीपीआई (एम) में से किसी ने मुझे नहीं बुलाया है, मैं कहीं नहीं जा रहा हूं। बता दें कि 8 जुलाई को मोदी मंत्रिमंडल के विस्तार से पहले 7 जुलाई को 12 मंत्रियों ने इस्तीफा दिया था। इनमें बाबुल सुप्रियो भी शामिल थे।

‘सामाजिक कार्य करने के लिए राजनीति को छोड़ रहा हूं’

वहीं फेसबुक पोस्ट में उन्होंने आगे लिखा कि सामाजिक कार्य करने के लिए राजनीति को छोडऩा पड़ रहा है। उन्होंने अपनी पोस्ट में कहा है कि मैं हमेशा एक टीम का खिलाड़ी रहा हूं। हमेशा एक टीम को सपोर्ट किया है- मोहनबागान। एक ही पार्टी का समर्थन किया है- भाजपा। बाबुल सुप्रियो ने इस बात का भी जिक्र किया है कि वे बहुत पहले से पार्टी छोडऩा चाहते थे। वे पहले ही मन बना चुके थे कि अब राजनीति में नहीं रहना है। उन्होंने कहा है कि चुनाव से पहले पार्टी संग मेरे कुछ मतभेद थे। वो बातें चुनाव से पहले ही सभी के सामने आ चुकी थीं। हार के लिए मैं तो जिम्मेदारी लेता ही हूं, लेकिन दूसरे नेता भी जिम्मेदार हैं।

बंगाल में भाजपा की वर्तमान स्थिति पर बाबुल ने कहा है कि अब पार्टी के पास कई नेता मौजूद हैं और नौजवान भी पार्टी की ताकत बढ़ा रहे हैं। उन्होंने कहा कि उन्होंने बंगाल में जुडऩे का निर्णय तब लिया यहां पर भाजपा की उपस्थिति न के बराबर थी।

एक महीने के भीतर छोडूंगा सरकारी आवास, सांसद के पद से भी दूंगा इस्तीफा

बाबुल सुप्रियो ने एक और बड़ा एलान करते हुए कहा कि मैं एक महीने के भीतर सरकारी आवास छोड़ दूंगा, साथ ही मैं सांसद के पद से भी इस्तीफा दूंगा।


Share