नड्डा के काफिले पर हमले से बंगाल की राजनीति गर्माई

नड्डा के काफिले पर हमले से बंगाल की राजनीति गर्माई
Share

कोलकाता (एजेंसी)। पश्चिम बंगाल में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर हमले से राजनीति गर्मा गई है। हमले में भाजपा महासचिव कैलाश विजयवर्गीय और मुकुल रॉय समेत कई नेता बाल-बाल बच गए हैं। विजयवर्गीय के गाड़ी के शीशे भी तोड़ दिए गए। विजयवर्गीय ने घटना का विडियो शेयर करते हुए ट्वीट भी किया। उन्होंने बताया कि टीएमसी के गुंडों ने भाजपा कार्यकर्ताओं को मारा और गाड़ी पर पथराव भी किया। विजयवर्गीय पर हुए हमले को नड्डा ने लोकतंत्र के लिए शर्मनाक बताया।

अमित शाह बोले- ‘बंगाल अत्याचार और अंधकार के युग में’

इस घटना पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने टीएमसी पर निशाना साधा है, उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा है, आज बंगाल में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष नड्डा जी के ऊपर हुआ हमला बहुत ही निंदनीय है, उसकी जितनी भी निंदा की जाये वो कम है। केंद्र सरकार इस हमले को पूरी गंभीरता से ले रही है। बंगाल सरकार  को इस प्रायोजित हिंसा के लिए प्रदेश की शांतिप्रिय जनता को जवाब देना होगा।

शाह ने लिखा है, तृणमूल शासन में बंगाल अत्याचार, अराजकता और अंधकार के युग में जा चुका है। टीएमसी के राज में पश्चिम बंगाल के अंदर जिस तरह से राजनीतिक हिंसा को संस्थागत कर चरम सीमा पर पहुँचाया गया है, वो लोकतांत्रिक मूल्यों में विश्वास रखने वाले सभी लोगों के लिए दु:खद भी है और चिंताजनक भी।

बता दें कि दक्षिण 24 परगना में टीएमसी और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष का आरोप है कि टीएमसी कार्यकर्ताओं ने भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा का काफिला रोकने की कोशिश की, इस दौरान टीएमसी कार्यकर्ताओं ने पत्थरबाजी भी की। सुरक्षा एजेंसियों ने जेपी नड्डा के काफिले को सुरक्षित बाहर निकाल लिया है।

बुलेटप्रूफ कार के कारण मैं सुरक्षित हूं : जेपी नड्डा

दक्षिण 24 परगना में भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कहा, हमारे काफिले में एक कार नहीं है, जिस पर हमला नहीं किया गया। मैं सुरक्षित हूं क्योंकि मैं बुलेटप्रूफ कार में यात्रा कर रहा था। पश्चिम बंगाल में अराजकता और असहिष्णुता की इस स्थिति को समाप्त करना है। कैलाश विजयवर्गीय और मुकुल रॉय घायल हैं।

वहीं, भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, मैं इस हमले में घायल हो गया हूं। पार्टी अध्यक्ष की कार पर भी हमला किया गया। हम इसकी कड़ी निंदा करते हैं। पुलिस की मौजूदगी में गुंडों ने हम पर हमला किया। ऐसा लगा जैसे हम अपने ही देश में नहीं हैं।

पश्चिम बंगाल के गवर्नर जगदीप धनखड़ ने कहा, राज्य में अराजकता की चौंकाने वाली रिपोर्ट पर चिंतित हूं। सुबह-सुबह मैंने मुख्य सचिव और डीजीपी को अलर्ट किया था, लेकिन फिर भी यह घटना हो गई।

इस मामले में बंगाल पुलिस ने कहा कि जेपी नड्डा के काफिले को कुछ नहीं हुआ। देबिपुर में कुछ लोगों ने काफिले के पीछे चलने वाले वाहनों पर पत्थर फेंके गए हैं। सभी लोग सुरक्षित हैं और स्थिति शांतिपूर्ण है।

डायमंड हॉर्बर में बोले नड्डा-

‘हमें ममता का नहीं, रवींद्रनाथ जी का बंगाल बनाना है’

डायमंड हॉर्बर (एजेंसी)।  भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा इन दिनों बंगाल के दौरे पर हैं। डायमंड हॉर्बर के रेडियो स्टेशन ग्राउंड पर आयोजित रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि आज तृणमूल कांग्रेस के गुंडों ने हमारी गाड़ी रोकने की कोशिश की। कैलाश विजयवर्गीय, मुकुल रॉय पर हमला किया गया। हमें ममता का बंगाल नहीं, रवींद्रनाथ जी का बंगाल बनाना है।

बंगाल में प्रशासन की आलोचना करते हुए नड्डा ने कहा कि बंगाल में प्रशासन नाम की चीज नहीं है। यहां की जनता के साथ अन्याय हो रहा है। जब आप अपना हक मांगने प्रशासन के पास जाते हो तो आपसे कट मनी मांगते हैं। ऐसी सरकार को उखाड़ फेंकना है।

नड्डा ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला बोलते हुए कहा कि ममता जी को किस चीज का भय है। एक तो बेईमानी ऊपर से उससे बचने की कोशिश! ये आपके हक पर डाका डालने का काम किया गया है।

गुरूवार को काफिले पर हुए हमले की निंदा करते हुए भाजपा नेता जेपी नड्डा ने कहा कि बंगाल जो अपनी संस्कृति, संस्कार, अपनी मीठी भाषा और बंगाली साहित्य के लिए जाना जाता है, ऐसे बंगाल पर ममता की अराजकता वाली और असहिष्णु सरकार है, उसकी तस्वीर आज हमने देखी है।


Share