एशिया कप हॉकी : टीम इंडिया ने सुपर-4 में जापान को 2-1 से हराया, लीग की हार का लिया बदला

एशिया कप हॉकी : टीम इंडिया ने सुपर-4 में जापान को 2-1 से हराया, लीग की हार का लिया बदला
Share

जकार्ता  (एजेंसी)।  इंडोनेशिया की राजधानी जकार्ता में चल रहे हॉकी हीरो एशिया कप में भारत ने सुपर-चार स्टेज के पहले मुकाबले में जापान को शनिवार को 2-1 से हरा दिया।

जीबीके एरिना में हुए मुकाबले में भारत ने पहले ही क्वार्टर में गोल के साथ शुरूआत की। मैच के शुरूआती पांच मिनट में जापान भारत पर हावी रहा, लेकिन मैच के आठवें मिनट में मनजीत ने चार डिफेंडर और गोलकीपर को चकमा देते हुए भारत के लिये पहला गोल किया। इस गोल ने भारतीय टीम को अनुभव से भर दिया जो मैदान पर भी सा$फ दिख रहा था।

पहले क्वार्टर में भारत को 1-0 की बढ़त देने के बाद जापान ने दूसरे क्वार्टर में आक्रामक खेल दिखाया। मैच के 18वें मिनट में नेवा टाकुमा ने जापान के लिये गोल करते हुए स्कोर को 1-1 पर ला खड़ा किया। तीसरे क्वार्टर में भारत ने मजबूत शुरूआत की और अंतत: मैच के 34वें मिनट में पवन राजभर ने अपना पहला गोल करते हुए भारत की बढ़त को 2-1 पर पहुंचा दिया।

चौथे क्वार्टर की शुरूआत भारत के लिये अच्छी नहीं रही क्योंकि कार्ती सेल्वम घायल होने के कारण $फील्ड से बाहर चले गये। मैच के 52वें मिनट में मनजीत को भी चेहरे पर चोट आई, हालांकि उनके माउथ गार्ड ने उन्हें बचा लिया। इसके बावजूद भारतीय खिलाडिय़ों ने अपनी लीड बचाने के लिये बेहतरीन रूप से डिफेंस किया और अंतत: मैच को 2-1 पर समाप्त किया। लीग स्टेज मुकाबले में जापान ने भारत को 5-2 की करारी शिकस्त दी थी, लेकिन भारत ने वापसी करते हुए यह मुकाबला अपने नाम किया। भारत का अगला मुकाबला 29 मई रविवार को मलेशिया से होगा।

सुपर-4 टीमें खेलेंगी तीन-तीन मुकाबले

सुपर-4 में भारत के साथ जापान, दक्षिण कोरिया और मलेशिया ने जगह बनाई है। प्रतियोगिता के सुपर-4 राउंड में पहुंची चारों टीमें अब आपस में तीन-तीन मुकाबले खेलेंगी। इसके बाद टॉप-2 टीमों के बीच फाइनल मुकाबला खेला जाएगा।

10 प्लेयर्स पहली बार ब्लू जर्सी में उतरे

प्रतियोगिता में 10 प्लेयर्स ने इंटरनेशनल डेब्यू किया है। इससे पहले इन खिलाडिय़ों ने सीनियर टीम के लिए कोई मैच नहीं खेला है। बतौर मेजबान पहले ही वर्ल्डकप-2023 के लिए क्वालिफाई कर चुकी टीम इंडिया ने एशिया कप में युवाओं को मौका दिया, ताकि उन्हें अनुभव मिल सके।


Share