खाने बनाने की कला ने दिलाई नई पहचान

खाने बनाने की कला ने दिलाई नई पहचान
Share

लॉकडाउन के इस पूरे समय का उपयोग हर किसी ने अपने अपने तरीके से किया है। किसी ने खाना बनाना सिखा तो किसी ने डाँस करना।

इसी बीच चेन्नई से आई खबर ने सभी को चौंका दिया।

चेन्नई की एक लड़की  जिसका नाम एसएन लक्ष्मी साई श्री हैं ने अपने हुनर से सभी को चकित कर दिया हैं। इस लड़की ने मात्र 58 मिनट में कुल 46 व्यंजन बनाकर एक नया रिकॉर्ड कायम किया हैं।इसका नाम  UNICO Book of World Records में दर्ज कर दिया गया है।

अद्भूत विश्व रिकॉर्ड बनाने वाली साई श्री ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान जब उसने अपनी मॉ को खाना पकाते देखती थी तो उसकी भी खाना पकाने में रुचि पैदा हुई और उन्होने अपनी मां से कहा बाद में उनकी मां ने उन्हे  प्रशिक्षिण दिया हैं।

बीते हफ्ते ही केरल की एक 10 साल की बच्ची ने 1 घंटे से भी कम समय में 33 व्यंजन बनाकर रिकॉर्ड बनाया था।

साई की मां एन कलीमगल ने कहा कि उनकी बेटी ने लॉकडाउन के दौरान  ही खाना बनाने की  शुरूआत की थी और जब वो वास्तव में अच्छा खाना बनाने लग गई थी तब लक्ष्मी के पिता ने  उन्हें विश्व रिकॉर्ड बनाने के लिये प्रेरित किया।

उन्होने आगे कहा कि “मैं तमिलनाडु के विभिन्न पारंपरिक व्यंजनों को पकाना जानती हूं। लॉकडाउन के दौरान, साई रसोई में मेरे साथ ही अपना समय बिताती थी। जब मैंने अपने पति के साथ साई के खाना पकाने की रुचि के बारे में चर्चा की, तो उन्होंने विश्व रिकार्ड का सुझाव दिया ।

इसकी तैयारी के लिए साई के पिता ने हुआ जब शोध करना किया तो पता चला कि केरल की एक 10 वर्षीय लड़की सानवी ने 30 से अधिक व्यंजन बनाये थे और रिकॉर्ड बनाया। हम चाहते थे कि  हमारी बेटी साई ये रिकॉर्ड तोड़े।

29 अगस्त को, साणवी ने 33 व्यंजन को बनाया था, जिसमें इडली, वफ़ल, कॉर्न फ्रिटर, मशरूम टिक्का, उत्तपम, पनीर टिक्का, सैंडविच, पपड़ी चाट, फ्राइड राइस, चिकन रोस्ट, पैनकेक, अप्पम शामिल थे।


Share