आरोग्य सेतु से पता चलेगा वैक्सीनेशन का स्टेटस

जेड+ जैसी सुरक्षा के बीच यह वैक्सीन दिल्ली पहुंची
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। बीते साल कोरोना संक्रमितों का डेटा रखने, कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग आदि के मकसद से तैयार किए गए आरोग्य सेतु ऐप पर अब टीकाकरण का स्टेटस भी पता चल सकेगा। अब तक इस ऐप का इस्तेमाल कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग, सरकार की ओर से जारी की गई एडवाइजरी के लिए ही किया जा रहा था।

इस ऐप का संचालन एनआईसी द्वारा किया जाता है। अब वैक्सीनेशन का स्टेटस भी इसके जरिए पता चल सकेगा। आपके आसपास कितने लोगों को कोरोना का टीका लगा है, यह भी आपको मालूम चलेगा। टीका लगवाने वाले यूजर को डबल ब्लू टिक मिलेगा, जिसके जरिए वह बता सकेगा कि उसे टीका लग गया है।

आरोग्य सेतु के ट्विटर अकाउंट पर मंगलवार को बताया गया, अब आपका वैक्सीनेशन स्टेटस आरोग्य सेतु ऐप पर भी अपडेट किया जा सकेगा। टीका लगवाएं। डबल ब्लू टिक पाएं और ब्लू शील्ड हासिल करें। आरोग्य सेतु ऐप ब्लूटूथ टेक्नोलॉजी और कॉन्टेक्ट नंबर का इस्तेमाल कर डेटा जुटाता है। कोरोना टेस्टिंग के सभी रिजल्ट लैबोरेट्रीज के द्वारा अपलोड किए जाते हैं और फिर आईसीएमआर उनका विश्लेषण करता है।

एक बार जब कोई व्यक्ति कोरोना पॉजिटिव पाया जाता है तो आईसीएमआर यूजर का कॉन्टेक्ट नंबर आरोग्य सेतु के साथ शेयर करता है।  इसके बाद संबंधित शख्स को आरोग्य सेतु ऐप पर पॉजिटिव मार्क किया जाता है और ऐप पर स्टेटस का कलर बदल कर लाल हो जाता है। बता दें कि कोरोना वैक्सीन के पंजीकरण और अपॉइंटमेंट के लिए कोविन पोर्टल का इस्तेमाल किया जा रहा है, लेकिन सरकार ने आरोग्य सेतु ऐप के जरिए भी रजिस्ट्रेशन की सुविधा दी है। भारत में 16 जनवरी से कोरोना वैक्सीनेशन का अभियान शुरू हुआ था।

देश में अब तक करीब 20 करोड़ लोगों को कोरोना का टीका लग चुका है। फिलहाल कोरोना वैक्सीनेशन का तीसरा राउंड चल रहा है। देश के कई राज्यों में 18 से 44 साल की उम्र के लोगों को भी टीका लगना शुरू हो चुका है।


Share