रिले टीम की एक और एथलीट डोप टेस्ट में फेल, टोक्यो ओलंपिक से अब तक 9 भारतीय एथलीट आ चुके हैं पॉजिटिव

Manpreet Singh will be the flag bearer of India along with Sindhu
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। ब्रिटेन के बर्मिंघम में राष्ट्रमंडल खेल शुरू होने से कुछ दिन पहले भारत को एक और झटका लगा है। भारत की 4 &100 मीटर महिला रिले टीम की एक अन्य एथलीट डोपिंट टेस्ट में फेल हो गई है। राष्ट्रीय डोपिंग रोधी एजेंसी ने भारतीय एथलीट का परीक्षण किया था। नतीजे में एथलीट द्वारा प्रतिबंधित पदार्थों के लिए जाने की पुष्टि हुई है।

एक हफ्ते से भी कम समय पहले स्प्रिंटर धनलक्ष्मी और ट्रिपल-जंप में राष्ट्रीय रिकॉर्ड धारक ऐश्वर्या बाबू ड्रग टेस्ट में फेल हो गए थे। धनलक्ष्मी राष्ट्रमंडल खेलों में हिस्सा लेने वाली भारतीय 4&100 मीटर रिले टीम का हिस्सा थीं।

ताजा घटनाक्रम की पुष्टि करते हुए, भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) के एक शीर्ष पदाधिकारी ने बताया, हां, एथलीट का डोप टेस्ट पॉजिटिव आया है। हम प्रक्रिया का पालन करेंगे। स्प्रिंटर दो साल पहले एक राष्ट्रीय शिविर का हिस्सा थी।

उन्हें 28 जुलाई से 8 अगस्त तक चलने वाले राष्ट्रमंडल खेलों के लिए देर से भारतीय टीम में शामिल किया गया था। प्रतियोगिता से सिर्फ 4 दिन पहले स्प्रिंटर के ड्रग परीक्षण में फेल होने के कारण भारतीय महिला 4&100 मीटर रिले टीम संकट में फंस गई है।

दरअसल, महिला रिले टीम के 6 में से 2 सदस्य अब डोप टेस्ट में फेल हो गए हैं। ऐसे में भारतीय टीम को कोई इंजरी कवर नहीं मिलेगा। संभावना है कि 100 मीटर हर्डलर ज्योति याराजी और लॉन्ग जम्पर एंसी सोजन बैकअप रनर के रूप में शामिल होंगी। ये दोनों भारतीय कॉमनवेल्थ गेम्स 2022  दल का हिस्सा हैं।

2011 के डोपिंग स्कैंडल के बाद से भारतीय एथलेटिक्स के लिए यह सबसे खराब साल रहा है। पिछले साल टोक्यो ओलंपिक के बाद से, कम से कम 9 एथलीट्स डोप टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए हैं। इनमें से दो एथलीट्स जापान में हुए ओलंपिक खेलों में भारतीय दल के सदस्य भी थे।

इस सीजन डोप टेस्ट में पॉजिटिव पाए जाने वाले खिलाडिय़ों में डिस्कस थ्रोअर कमलप्रीत कौर, शिवपाल सिंह, एमआर पूवम्मा, भाला फेंक खिलाड़ी राजेंद्र सिंह और युवा तरनजीत कौर शामिल हैं। तरनजीत कौर 100 मीटर और 200 मीटर अंडर-23 राष्ट्रीय खिताब जीत चुकी हैं।

शिवपाल सिंह नीरज चोपड़ा के बाद भारत के दूसरे सर्वश्रेष्ठ भाला फेंक खिलाड़ी हैं। एमआर पूवम्मा एशियाई खेलों में 4&400 मीटर रिले में 3 बार की चैंपियन हैं। कमलप्रीत कौर टोक्यो ओलंपिक्स में छठवें नंबर पर रहीं थीं।

2021 में जारी नवीनतम विश्व डोपिंग रोधी एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, डोपिंग के मामलों में भारत तीसरे नंबर पर है। देश भर में 152 मामले डोप टेस्ट के आए। इस मामले में भारत सिर्फ रूस (167) और इटली (157) से ही नीचे है।


Share