नाराज कैप्टन अमरिंदर सिंह के दिल्ली में नड्डा, शाह से मिलने की संभावना, पंजाब कांग्रेस को लगेगा बड़ा झटका?

नवजोत सिद्धू और अमरिंदर सिंह के लिए अब यारी-दोस्ती
Share

नाराज कैप्टन अमरिंदर सिंह के दिल्ली में नड्डा, शाह से मिलने की संभावना, पंजाब कांग्रेस को लगेगा बड़ा झटका?- पंजाब में सियासी घमासान शुरू हो गया है। पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के भाजपा में शामिल होने की संभावना है। इसके अलावा अमरिंदर सिंह आज नई दिल्ली के लिए रवाना हो गए हैं। सूत्रों के मुताबिक वह आज शाम दिल्ली में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और गृह मंत्री अमित शाह से मुलाकात करेंगे। कांग्रेस नेता और पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के भाजपा में शामिल होने की संभावना है। चर्चा है कि अमरिंदर सिंह दिल्ली में जेपी नड्डा और अमित शाह से मुलाकात करेंगे।

अमरिंदर सिंह के सलाहकारों ने इन खबरों को नकारा !

वैसे भी कैप्टन अमरिंदर सिंह के मीडिया सलाहकार रवीन ठाकुरल ने इन सभी संभावनाओं को नकारते हुए कहा है कि कैप्टन अमरिंदर सिंह के दिल्ली दौरे के बारे में बहुत सारी खबरें आ रही हैं, लेकिन वह दिल्ली के निजी दौरे पर हैं, जहाँ वह अपने कुछ लोगों से मिलेंगे। वह मुख्यमंत्री के लिए कपूरथला का घर भी खाली करने जा रहे हैं। इसलिए ऐसी संभावना मानना ​​गलत है।

कैप्टन अमरिंदर सिंह के दिल्ली दौरे के बारे में बहुत कुछ पढ़ा जा रहा है।  वह व्यक्तिगत यात्रा पर हैं।

इस बीच, पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पंजाब कांग्रेस में चल रहे आंतरिक विवाद के बाद इस्तीफा दे दिया था। कहा जाता है कि कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष नवज्योत सिंह सिद्धू के साथ उनकी बहस हुई थी।  उसके बाद, कांग्रेस ने अमरिंदर सिंह की जगह चरणजीत सिंह चन्नी को पंजाब के नए मुख्यमंत्री के रूप में नियुक्त किया।  इसलिए अब कयास लगाए जा रहे हैं कि पिछले कुछ समय से कांग्रेस में चल रहे विवाद से तंग आकर कैप्टन अमरिंदर सिंह पार्टी सदस्य के पद से इस्तीफा दे सकते हैं।

कैप्टन अमरिंदर सिंह कांग्रेस से निराश

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद सोशल मीडिया पर अपनी बात रखने की कोशिश की। उन्होंने कहा था कि राहुल गांधी और प्रियंका वाड्रा उनके बच्चों की तरह हैं, लेकिन पंजाब के लिए उनके पास जो रणनीति है वह अनुभव की कमी को दर्शाती है। इतना ही नहीं उन्होंने कहा था कि वह पार्टी में खुद को अपमानित महसूस करते हैं। उन्हीं की वजह से उन्होंने मुख्यमंत्री पद छोड़ने का फैसला किया।

इसका जवाब कांग्रेस प्रवक्ता ने दिया

अमरिंदर सिंह के बयान के बाद कांग्रेस प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनाथ ने इसका जवाब दिया था। उन्होंने कहा कि अमरिंदर सिंह का बयान उनकी स्थिति के अनुकूल नहीं है, लेकिन वह कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं, इसलिए संभव है कि उन्होंने गुस्से में यह बयान दिया हो। 


Share