फतहसागर पर आजादी का अमृत जल महोत्सव

Amrit Jal Festival of Independence at Fatehsagar
Share

मानसून का जश्ने-वीकेंड, फतहसागर, स्वरूप सागर, उदयसागर छलके, आयड़ नदी में पानी का तेज बहाव, जयसमंद में सबसे ज्यादा 141 मिमी बारिश

नगर संवाददाता . उदयपुर। झीलों की नगरी में शुक्रवार को हुई झमाझम बारिश ने समां ही बदल दिया। शहर की फतहसागर, स्वरूप सागर, उदयसागर झीलें, गोवर्धन सागर तालाब लबालब होकर छलक गए, सीसारमा नदी, मदार नहर में पानी की तेज आवक जारी रही।  10 साल बाद फतहसागर, पिछोला और उदयसागर तीनों झीलें एक साथ छलकीं।  फतेहसागर झील के गेट शनिवार सुबह खोल दिए गए जबकि उदयसागर व स्वरूप सागर के गेट शुक्रवार रात को खोल दिए गए थे। सुखेर का नाका बांध भी छलक गया। उदयपुर जिले में इस सीजन में अब तक 515 एमएम बरसात हो चुकी है। पिछले साल 12 अगस्त तक उदयपुर में 228 एमएम बरसात हुई थी। जबकि इस साल यह आंकड़ा 500 के पार जा चुका है। इस समय तक औसत बरसात 393 एमएम होनी थी। मगर अबतक औसत से 31 प्रतिशत ज्यादा बरसात उदयपुर में हो चुकी है। वहीं पूरे उदयपुर संभाग में भी औसत से 17.3 प्रतिशत ज्यादा बरसात हो चुकी है। पिछोला के 3 गेट 1.3 फीट, उदयसागर के दो गेट 1.9 फीट, फतहसागर के चारों गेट 3-3 इंच खोल दिए गए।  इधर जयसमंद में सबसे ज्यादा 141 एमएम बरसात हुई।  उदयपुर शहर में 86 एमएम पानी बरसा।


Share