अमेरिका ने यूं लिया काबुल का बदला- आतंकी की बम से खोद डाली ‘कब्र’

सिमी-इंमु के 12 आतंकी दोषी करार-
Share

काबुल (एजेंसी)। अमेरिका ने 48 घंटे के भीतर काबुल हमले का बदला ले लिया है। अफगानिस्तान की राजधानी में फिदायीन हमले के मास्टरमाइंड को एयरस्ट्राइक में मार गिराया गया है। अफगानिस्तान के नागरहार प्रांत में इस्लामिक स्टेट-खुरासान के आतंकी पर अमेरिका ने ड्रोन से शक्तिशाली बम गिराया जिसने ना केवल आतंकी के चीथड़े उड़ा दिए, बल्कि उसकी ‘कब्र’ भी खोद डाली। असल में बम गिरा वहां एक बड़ा गड्ढा हो गया है, जो बता रहा है कि बम कितना शक्तिशाली था।

इस्लामिक स्टेट के खूंखार मॉड्यूल ने गुरूवार को काबुल हवाई अड्डे के बाहर फिदायीन हमला किया था, जिसमें 13 अमेरिकी सैनिक के अलावा 150 से अधिक अफगान मारे गए। धमाका इतना शक्तिशाली था कि 1,300 से अधिक लोग घायल हुए हैं। हमले के बाद अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा था कि ना तो इसे भुलाएंगे और ना ही माफ किया जाएगा। उन्होंने कहा था कि आतंकियों को ढूंढकर उन्हें सजा दी जाएगी।

शनिवार सुबह अमेरिका ने दुनिया को खुशखबरी देते हुए ऐलान किया, शुरूआती संकेत हैं कि हमने टारगेट को मार डाला है और कोई नागरिक हताहत नहीं हुआ है। अफगानिस्तान की न्यूज एजेंसी ‘असवाका न्यूजÓ ने उस जगह की तस्वीरें जारी की हैं, जहां ड्रोन से बम गिराया गया। नांगरहार प्रांत के काला-ए-नगरकी में यह हमला किया गया। तस्वीरों में जली हुई गाड़ी और एक मकान दिख रहा है। जहां यह बम गिरा वहां काफी गहरा गड्ढा हो चुका है।

रॉयटर्स के मतुाबिक, खाड़ी के देश से उड़े ड्रोन ने बेहद सटीकता से आतंकी पर बम गिराया। उस समय वह इस्लामिक स्टेट के अपने एक सहयोगी के साथ काड़ में बैठा हुआ था। बताया जा रहा है कि दोनों ही इस हमले में मारे गए हैं।


Share