अखिलेश-आजम ने सांसदी छोड़ी, अब यूपी विधानसभा में विपक्ष के नेता बन सकते हैं अखिलेश

Akhilesh-Azam quit MP, now Akhilesh can become leader of opposition in UP assembly
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव और आजम खां ने मंगलवार को लोकसभा से इस्तीफा दे दिया है। अखिलेश यादव ने आजमगढ़ लोकसभा सीट से तो आजम खान ने रामपुर लोकसभा सीट से इस्तीफा दे दिया। हाल में ही हुए विधानसभा चुनाव में अखिलेश मैनपुरी की करहल सीट से तो आजम खान रामपुर सीट से विधायक बने हैं। ऐसे में दोनों को सांसदी या विधायकी में से एक छोडऩी थी। पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव मंगलवार को लोकसभा पहुंचे। यहां वह स्पीकर ओम बिरला से मिले और अपना इस्तीफा सौंप दिया। अब अखिलेश यादव यूपी विधानसभा में विपक्ष के नेता बन सकते हैं। यानी अब भाजपा सरकार के खिलाफ अखिलेश यादव सदन से लेकर सड़क की लड़ाई की अगुवाई करेंगे, जबकि आजम खान भी विधानसभा के सदस्य बने रहेंगे।

लोकसभा में 5 से 3 हुई सपा सांसदों की संख्या

अखिलेश यादव और आजम खान के इस्तीफे के बाद अगले 6 महीने के अंदर आजमगढ़ और रामपुर लोकसभा सीट पर उपचुनाव होगा। लोकसभा में अब सपा के सांसदों की संख्या 3 हो गई है। मैनपुरी से मुलायम सिंह यादव, मुरादाबाद से एसटी हसन और संभल से शफीकुर्रहमा बर्क लोकसभा में सपा का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

इस्तीफे से पहले आजमगढ़ गए थे अखिलेश

सांसदी छोडऩे के फैसले से पहले अखिलेश यादव सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र आजमगढ़ पहुंचे थे। यहां उन्होंने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं, कार्यकर्ताओं के अलावा समाज के अलग-अलग तबकों के लोगों से मुलाकात की थी। इससे पहले रविवार को अखिलेश करहल गए थे और वहां भी नेताओं और कार्यकर्ताओं से मिलकर चर्चा की थी। उन्होंने कार्यकर्ताओं से पूछा था कि आगे क्या करना चाहिए?

जेल से विधानसभा का चुनाव जीते हैं आजम खान : सपा के सीनियर नेता और पूर्व कैबिनेट मंत्री आजम खान ने इस बार का विधानसभा का चुनाव जेल के अंदर से लड़ा और जीता। इससे पहले वह 2019 के लोकसभा चुनाव में रामपुर संसदीय सीट से चुनाव लड़े और जीते थे। अब आजम खान ने सांसदी छोड़ दी है और रामपुर शहर सीट से विधायक बने रहेंगे।


Share