हवाई यात्रियों बड़ी राहत, बोर्डिंग पास जारी करने के पैसे नहीं वसूल सकेंगी एयरलाइन कंपनियां

हवाई यात्रियों बड़ी राहत, बोर्डिंग पास जारी करने के पैसे नहीं वसूल सकेंगी एयरलाइन कंपनियां
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। विमानन मंत्रालय ने बृहस्पतिवार को एयरलाइन कंपनियों के लिए नई दिशा-निर्देश जारी किए। मंत्रालय ने कहा कि अब ‘चेक-इन’ काउंटर पर बोर्डिंग पास जारी करने के लिए यात्रियों से अतिरिक्त शुल्क नहीं ले सकती है। बता दें कि देश की सबसे बड़ी एयरलाइन कंपनी इंडिगो, स्पाइसजेट और गो फस्र्ट जैसी एयरलाइंस वर्तमान में हवाईअड्डे के चेक-इन काउंटर पर यात्रियों द्वारा बोर्डिंग पास की मांग करने पर अतिरिक्त 200 रूपये का शुल्क लेती हैं।  मंत्रालय ने लिखा, नागर विमानन मंत्रालय के संज्ञान में आया है कि एयरलाइंस यात्रियों से बोर्डिंग पास जारी करने के लिए अतिरिक्त राशि वसूल कर रही है। यह अतिरिक्त राशि उक्त आदेश में दिए गए निर्देशों के अनुसार या विमान नियम के मौजूदा प्रावधानों के अनुसार नहीं है।

बता दें कि मंत्रालय ने 21 मई, 2020 को यात्रियों के लिए वेब चेक-इन करना और बोर्डिंग पास प्राप्त करना अनिवार्य कर दिया था। हालांकि, 9 मई, 2022 को, मंत्रालय ने एक आदेश जारी किया जिसमें कहा गया कि एयरलाइंस को यात्रियों को समय पर वेब चेक-इन और बैग टैग प्रिंटिंग करने के लिए प्रोत्साहित करना चाहिए। मंत्रालय ने गुरूवार को कहा कि एयरलाइंस द्वारा एयरपोर्ट चेक-इन काउंटर पर बोर्डिंग पास जारी करने के लिए अतिरिक्त शुल्क वसूलने की प्रथा 9 मई के आदेश के अनुरूप नहीं है।


Share