राजस्थान में बर्ड फ्लू के अलर्ट के बाद , 7 कौवे जयपुर में मृत मिले

राजस्थान में बर्ड फ्लू के अलर्ट के बाद , 7 कौवे जयपुर में मृत मिले
Share

एक अधिकारी ने कहा, “स्थिति चिंताजनक नहीं है, लेकिन हम सतर्क हैं, यह सुनिश्चित करते हुए कि यह वायरस घरेलू जानवरों में प्रवेश नहीं करता है”। सभी स्थानों पर विशेष रूप से आर्द्रभूमि, सांभर झील और कैला देवी पक्षी अभयारण्य में प्रभावी निगरानी सुनिश्चित की जा रही है।

अधिकारियों ने कहा कि राजस्थान में झालावाड़ में मरे हुए कौवों में खतरनाक वायरस की मौजूदगी की पुष्टि होने के बाद बर्ड फ्लू का अलर्ट किया गया है।

रविवार को यहां के प्रतिष्ठित जलमहल में सात कौवे मृत पाए गए, अब तक राज्य में 252 मृत पाए गए हैं।

बर्ड फ्लू के मामले अब तक झालावाड़,कोटा व जोधपुर में देखे गए हैं।

यह एक खतरनाक वायरस है जिसके चलते पोल्ट्री फार्म मालिकों को सावधानी बरतने को कहा गया है।  सभी स्थानों पर खासतौर से आर्द्रभूमि, सांभर झील और कैला देवी पक्षी अभयारण्य में कड़ी निगरानी रखी जायेगी।

उन्होंने कहा कि 25 दिसंबर को झालावाड़ से कौओं की मौत की सूचना मिली थी। उनके नमूने भोपाल में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हाई-सिक्योरिटी एनिमल डिसीज (NIHSAD) को भेजे गए और बर्ड फ्लू के वायरस का पता चला।

अब तक झालावाड़ से 100, बारां से 72, कोटा से 47, पाली से 19, जोधपुर से सात और जयपुर से सात कौवों की मौत हो चुकी सभी जिलों में अलर्ट जारी किया गया है।

वहीं अतिरिक्त निदेशक भवानी राठौर ने कहा “स्थिति चिंताजनक नहीं है, लेकिन हम सतर्क हैं, यह सुनिश्चित करते हुए कि यह वायरस घरेलू जानवरों में प्रवेश नहीं करता है। मृत जानवरों को निर्देश के अनुसार दफनाया गया है। उन्होंने कहा कि विभिन्न स्थानों से 75 नमूनों को परीक्षण के लिए भेजा गया है।


Share