रेमडेसिविर की किल्लत के बाद सरकार ने इंजेक्शन के निर्यात पर रोक लगाई

COVID प्रसार पर अंकुश लगाने के लिए जयपुर
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। कोरोना मरीजों को दिए जाने वाले इंजेक्शन रेमडेसिविर के निर्यात पर केंद्र सरकार ने रविवार को रोक लगा दी है। इसे बनाने में इस्तेमाल होने वाली चीजों का भी निर्यात नहीं हो सकेगा। संक्रमण के मामले अचानक बढऩे से देश भर में इस इंजेक्शन की शॉर्टेज हो गई है। आने वाले दिनों में मांग और बढऩे की संभावना को देखते हुए सरकार ने यह फैसला लिया है।

यह इंजेक्शन बनाने वाली सभी घरेलू कंपनियों को अपनी वेबसाइट पर स्टॉकिस्ट और डिस्ट्रीब्यूटर्स के नाम डिस्प्ले करने की सलाह दी गई है। ड्रग्स इंस्पेक्टर और दूसरे अधिकारियों को स्टॉक का वैरिफिकेशन करने और ब्लैक मार्केटिंग रोकने के निर्देश दिए गए हैं। डिपार्टमेंट ऑफ फार्मास्युटिकल्स कंपनियों के साथ संपर्क में है, ताकि रेमडेसिविर के प्रोडक्शन को बढ़ाया जा सके।

कुल सक्रिय मामले 11,08,087 बता दें कि देश में रविवार को कोरोना के 1,52,879 नए मामले सामने आए जबकि पिछले 24 घंटे में 839 मौतें हुई हैं। देश में कुल सक्रिय मामले बढ़कर 11,08,087 हो गए हैं। हालांकि अभी तक 1,20,81,443 मरीज इस वायरस से ठीक भी हो चुके हैं। कोरोना से मौत का आंकड़ा बढ़कर 1,69,275 हो गया है जबकि कुल कोरोना मामलों की संख्या बढ़कर 1,33,58,805 हो गई है।

कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान

देशभर में कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण अभियान जारी है। अभी तक 10,15,95,147 टीके लग चुके हैं। पिछले 24 घंटे में 35,19,987 खुराकें दी गई हैं। सबसे ज्यादा टीके महाराष्ट्र में लगे हैं, यहां 99,23,534 खुराकें दी जा चुकी है। इसके बाद राजस्थान में 95,65,308 टीके लगे हैं। वहीं गुजरात में 90,56,842 टीके लगे हैं।


Share