रीट के बाद अब आरएएस परीक्षा में धांधली का आरोप, किरोड़ी धरने पर बैठे

After reet, now allegation of rigging in RAS exam, Kirori sat on dharna
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)।  राजस्थान में प्रतियोगी परीक्षाओं को लेकर हर दिन नया विवाद सामने आ रहा है। रीट के बाद अब आरएएस मुख्य परीक्षा में धांधली का नया मामला सामने आया है। राज्यसभा सांसद डॉक्टर किरोडी लाल मीणा ने आरोप लगाया है कि सरकार ने निजी कोचिंग संस्थान को फायदा पहुंचाने के लिए आरएएस मुख्य परीक्षा का सिलेबस बदला है। ताकि कोचिंग संस्थान के ज्यादा से ज्यादा बच्चे आरएएस मुख्य परीक्षा पास कर सके। किरोडी भी धरने पर बैठ गए।

मीणा ने आरोप लगाया कि इसके अलावा बीएम शर्मा और राजीव गांधी स्टडी सर्किल से जुड़े हुए लोग जयपुर में टारगेट सिविल के नाम से एक कोचिंग संस्थान चला रहे हैं। इस संस्थान को फायदा पहुंचाने के लिए आरएएस मुख्य परीक्षा का सिलेबस आखरी वक्त में बदला गया है। इतना ही नहीं बल्कि यह सिलेबस राजीव गांधी स्टडी सर्किल के लोगों और बीएम शर्मा ने तैयार किया है। उन्होंने बताया कि जब भी किसी परीक्षा की अधिसूचना जारी होती है। तो उसके साथ सिलेबस भी जारी होता है। ऐसे में उस सिलेबस को किसी भी परिस्थिति में नहीं बदला जा सकता। लेकिन सिर्फ एक कोचिंग को फायदा पहुंचने के लिए आरएएस मुख्य परीक्षा का सिलेबस बदल दिया गया है। जो हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट के आदेश का उल्लंघन भी है।


Share