लिविंगस्टोन के बाद राहुल चाहर का कमाल, सीएसके की हैट्रिक हार, पंजाब की बल्ले-बल्ले, आईपीएल इतिहास में पहली बार चेन्नई शुरूआती तीनों मैच हारा, जड़ेजा कप्तानी व बल्लेबाजी दोनों में फेल

After Livingstone, Rahul Chahar's amazing, CSK's hat-trick defeat, Punjab's bat-bat, Chennai lost the first three matches in IPL history, Jadeja failed in both captaincy and batting
Share

मुंबई (कार्यालय संवाददाता)। लिविंगस्टोन के धांसू धमाल के बाद राहुल चहर की कहर बरपाती गेंदों के आगे चेन्नई सुपर किंग्स के धाकड़ बल्लेबाज फेल हो गए और पंजाब किंग्स ने इंडियन प्रीमियर लीग के 2022 सत्र के 11वें मुकाबले में 54 रनों से मैच अपने नाम कर लिया। लियाम लिविंगस्टोन (60) और शिखर धवन (33) की शानदार पारी की बदौलत पंजाब किंग्स (पीबीकेएस) ने चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) को 181 रनों का लक्ष्य दिया। पंजाब ने 20 ओवरों में आठ विकेट खोकर 180 रन बनाए। जवाब में चेन्नई की टीम 18 ओवरों में 126 रनों पर ढेर हो गई। आईपीएल के इतिहास में ये पहला मौका है, जब चेन्नई सुपर किंग्स लगातार शुरुआती 3 मैच हारी हो। टूर्नामेंट शुरू होने से ठीक दो दिन पहले धोनी ने ष्टस्य की लीडरशिप छोड़ दी थी और रवींद्र जडेजा को टीम का नया कप्तान बनाया गया था। हालांकि जडेजा न तो कप्तानी में कुछ कमाल दिखा सके और न ही बतौर खिलाड़ी उनका जलवा देखने को मिला।

इससे पहले इंग्लैंड के बल्लेबाज लियाम लिविंगस्टोन (60) के अर्धशतक और उनकी शिखर धवन (33) के साथ तीसरे विकेट के लिये 95 रन की भागीदारी से पंजाब किंग्स शुरूआती झटकों से उबरने के बावजूद चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ आठ विकेट पर 180 रन ही बना सकी। पंजाब किंग्स की वापसी में लिविंगस्टोन (पांच चौके और इतने ही छक्के) की भूमिका काफी महत्वपूर्ण रही जिससे टीम ने पावरप्ले में दो विकेट पर 72 रन बना लिये थे। पंजाब किंग्स की टॉस गंवाने के बाद बल्लेबाजी का न्यौता मिलने के बाद शुरूआत काफी खराब हुई।

उसने पारी की दूसरी ही गेंद पर अपने कप्तान और सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल का विकेट गंवा दिया जो मुकेश चौधरी की पहली गेंद को चौके के लिये भेजने के बाद उनकी बाहर जाती गेंद पर बल्ला छुआकर कवर में खड़े रॉबिन उथप्पा को आसान कैच दे बैठे। टीम अभी इस झटके से उबर भी नहीं सकी थी कि भानुका राजपक्षे (09) रन आउट हो गये जिसमें सीएसके के पूर्व कप्तान और विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी की चपलता देखने लायक थी। राजपक्षे ने आउट होने से पहले क्रिस जोर्डन (23 रन देकर दो विकेट) की गेंद को फाइन लेग पर छक्के के लिये भेजा था।

धवन (चार चौके और एक छक्का) और लिविंगस्टोन ने पहले संभलकर बल्लेबाजी की। फिर पांचवें ओवर में तो लिविंगस्टोन ने कमाल कर मुकेश चौधरी (52 रन देकर एक विकेट) की गेंदों को धुनते हुए दो छक्के और तीन चौके जड़ दिये। उनके दूसरे छक्के से पहले ही टीम ने 4.5 ओवर में 50 रन पूरे कर लिये थे। इस ओवर में 26 रन जुड़े। लिविंगस्टोन से प्रेरित होकर धवन ने भी हाथ खोलते हुए अगले ओवर में ड्वेन ब्रावो (तीन ओवर में 32 रन देकर एक विकेट) पर लांग ऑन में छक्का लगाने के बाद अगली गेंद को कवर पर चौके लिये भेजा।

उन्होंने इस ओवर का समापन भी फाइनल लेग पर चौका लगाकर किया। पावरप्ले में स्कोर दो विकेट पर 72 रन हो गया। कप्तान जडेजा (34 रन देकर एक विकेट) सातवें ओवर में गेंदबाजी करने आये जिनकी पहली गेंद को लिविंगस्टोन ने लांग ऑफ पर गगनदायी छक्के के भेज दिया। पर टीम ने इसी ओवर में लिविंगस्टोन को आउट करने का मौका भी गंवा दिया जब अंतिम गेंद पर अंबाती रायुडू के हाथों से उनका कैच छूट गया। लेकिन इसकी भरपायी रायुडू ने 11वें ओवर में जडेजा की गेंद पर लिविंगस्टोन का ही कैच लपककर की। पर तब तक इस बल्लेबाज ने 32 गेंद की अपनी पारी में अपना काम पूरा कर दिया था।

यह जडेजा का इस आईपीएल सत्र में पहला विकेट भी रहा। धवन (33) इससे पहले 10वें ओवर की अंतिम गेंद पर ब्रावो के जाल में फंसकर विकेट दे बैठे जिनका आसान कैच जडेजा ने लपका और लिविंगस्टोन के साथ 52 गेंद में तीसरे विकेट की 95 रन की साझेदारी भी खत्म हो गयी और इस मजबूत होती भागीदारी को तोडऩे में सीएसके को कामयाबी मिली। पर इसी ओवर में लिविंगस्टोन ने ब्रावो की गेंद पर फाइन लेग में छक्का जड़कर अपना अर्धशतक भी पूरा किया। इस तरह 10 ओवर में पंजाब किंग्स ने तीन विकेट पर 109 रन बना लिये थे। पंजाब किंग्स के लिये अब जितेश शर्मा क्रीज पर थे जिन्हें टीम ने वैभव अरोड़ा के साथ पदार्पण का मौका दिया है। पर लिविंगस्टोन का विकेट गिरने के बाद उनके साथ दूसरे छोर पर शाहरूख खान (06) बल्लेबाजी के लिये आये। जितेश शर्मा अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे, पर ड्वेन प्रिटोरियस (30 रन देकर दो विकेट) की धीमी गेंद पर उथप्पा ने उनकी 17 गेंद में 26 रन की पारी खत्म कर दी जिसमें तीन छक्के जड़े थे। एक समय लग रहा था कि टीम 200 से ज्यादा रन का स्कोर बना लेगी लेकिन सीएसके के गेंदबाजों ने वापसी की जिससे पंजाब किंग्स की टीम अंतिम पांच ओवर में सिर्फ 33 रन बना सकी और तीन विकेट (शाहरूख खान, ओडियन स्मिथ और राहुल चाहर) गंवा दिये। कागिसो रबाडा ने नाबाद 12 और राहुल ने भी 12 रन बनाये।


Share