द्रविड़ के बाद लक्ष्मण को बड़ी जिम्मेदारी- गांगुली ने मनाकर एनसीए का हेड बनाया, छूटा सनराइजर्स का साथ

सौरव गांगुली की हालत में सुधार- दूसरे एंजियोप्लास्टी के बाद अपोलो अस्पताल से मिली छुट्टी
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। टीम इंडिया के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण नेशनल क्रिकेट एकेडमी के नए हेड बनाए गए हैं। इससे पहले एनसीए के प्रमुख राहुल द्रविड़ थे, जो अब भारतीय टीम के कोच हैं। पहले लक्ष्मण ने इस पद को संभालने से मना कर दिया था, लेकिन अब बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने उन्हें मना लिया है। लक्ष्मण इंडिया ए के साउथ अफ्रीका दौरे के बाद नई जिम्मेदारी संभाल सकते हैं।

अपनी शर्तों पर माने लक्ष्मण

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने बताया, लक्ष्मण अपनी शतो्रं पर एनसीए प्रमुख बनने को तैयार हुए हैं। सौरव गांगुली और सेक्रेटरी जय शाह यही चाहते थे क्योंकि द्रविड़ और लक्ष्मण की समझ कमाल की है और ये टीम इंडिया और एनसीए दोनों के लिए बहुत अच्छा रहेगा। उनके अप्वाइंटमेंट के नियम और शर्तों पर काम जारी है। लेकिन उन्होंने अभी से ही एनसीए के साथ अपने आइडिया शेयर करने शुरू कर दिए हैं। उन्होंने आगे कहा कि लक्ष्मण का एनसीए हेड बनना लंबी प्रक्रिया का हिस्सा है। इसे लेकर सौरव गांगुली और जय शाह के साथ उनके बातचीत का सिलसिला भी लंबा चला। लक्ष्मण के सामने सबसे बड़ी दुविधा हैदराबाद से फैमिली के साथ बेंगलुरू सेटल होने को लेकर थी।

उन्होंने सनराइजर्स हैदराबाद से भी बात की, जिसके वो मेंटर हैं। बहरहाल अब सारी उलझनों को सुलझा लिया गया है। लक्ष्मण ने टीम इंडिया के लिए 134 टेस्ट और 86 वनडे मैच खेले हैं।

टीम इंडिया के कोच बनना चाहते थे लक्ष्मण

रवि शास्त्री की जगह लक्ष्मण टीम इंडिया के कोच बनना चाहते थे। राहुल द्रविड़ अगर ये पद नहीं संभालते तो लक्ष्मण ही विकल्प थे। बता दें कि अब लक्ष्मण आईपीएल में हैदराबाद के मेंटर नहीं रह पाएंगे, क्योंकि बीसीसीआई के नियमों के मुताबिक एनसीए के हेड रहते आप क्रिकेट की कोई और जिम्मेदारी नहीं ले सकते हैं।


Share