कॉलेजों के लिए एडमिशन पॉलिसी जल्द, अबकी बार भी पर्सेंटेज के आधार पर किए जाएंगे एडमिशन

कॉलेजों के लिए एडमिशन पॉलिसी जल्द, अबकी बार भी पर्सेंटेज के आधार पर किए जाएंगे एडमिशन
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)।  राजस्थान बोर्ड के 12वीं कक्षा का रिजल्ट जारी होने के साथ ही कॉलेजों में एडमिशन की तैयारियां शुरू हो गई हैं। हालांकि अभी सरकारी कॉलेजों में एडमिशन के लिए कॉलेज आयुक्तालय ने एडमिशन पॉलिसी जारी नहीं की है। सूत्रों का कहना है कि इस साल पॉलिसी में बदलाव नहीं करते हुए कॉलेजों में एडमिशन पर्सेंटाइल फार्मूले के बजाय 12वीं कक्षा की पर्सेंटेज के आधार पर ही किये जाएंगे। कोरोना काल में सरकार ने पर्सेंटाइल फॉर्मूला हटाकर अंकों के प्रतिशत के आधार पर एडमिशन करने का फैसला लिया था।

सीबीएसई के परिणाम के बाद प्रवेश प्रक्रिया

87 नए सरकारी कॉलेज इसी सत्र से शुरू होंगे। सरकारी कॉलेजों में पिछले साल 5,08,628 और प्राइवेट कॉलेजों में 7,93,857 नामांकन थे। राजस्थान यूनिवर्सिटी के चारों संघटक कॉलेजों में सीबीएसई का रिजल्ट जारी होने के बाद ही एडमिशन प्रक्रिया शुरू की जाएगी।

सरकारी कॉलेजों में बढ़ सकती हैं 17000 सीटें

प्रदेश के सरकारी कॉलेजों में फिलहाल 2,24,059 सीटें हैं। यूजी की 1,91,271 और पीजी की 32,788 सीटें शामिल हैं। इसके अलावा नए कॉलेज खुलने से सीटें 15-17 हजार तक बढ़ सकती हैं, लेकिन नए कॉलेजों में बीए कोर्स ही शुरू होगा। सरकारी कॉलेजों में फिलहाल बीकॉम में करीब 29,400, बीएससी मैथ्स में 15,500, बायो में 16,600 व आर्ट्स में करीब 1,36,900 सीटें हैं। हालांकि इस बारे 96 फीसदी से अधिक विद्यार्थियों के पास होने से मेरिट ऊंची रहने की संभावना से इनकार नहीं किया जा रहा।


Share