आदर्श क्रेडिट को-ऑपरेटिव सोसायटी घोटाला राजस्थान उच्च् न्यायालय ने दी निवेशकों को राहत

Share

90 दिन में 3039 निवेशकों का मामला निपटाने के आदेश

उदयपुर. नगर संवाददाता & आदर्श क्रेडिट कॉपरेटिव सोसायटी के 3039 निवेशको की राजस्थान हाईकोर्ट 90 दिन में निवेशकों का मामला निपटाने के निर्देश दिए है।

जानकारी के अनुसार आदर्श क्रेडिट कोओपरेटिव मल्टी स्टेट सोसायटी में निवेश करने वाले हजारो निवेशको ने राजस्थान उच्च न्यायालय की में याचिका पेश की थी। राजस्थान उच्च न्यायालय ने केन्द्रीय रजिस्ट्रार भारत सरकार, स्टेट रजिस्ट्रार. राजस्थान सरकार, एसएफआईओएएसओजी, आदर्श सोसायटी प्रबंधन मंडल, आदर्श सोसायटी परिसमापक के विरुद्ध दायर याचिकाओं पर सुनवाई करते हुए जस्टिस दिनेश मेहता ने निवेशको को राहत दी है। सोसायटी के 3039 निवेशको की ओर से पैरवी करने वाले वरिष्ठ अधिवक्ता गिरीश कुमार सांखला और एडवोकेट नरेन्द्र कुमार जोशी ने बताया की निवेशको ने भारत सरकार द्वारा दिए रजिस्ट्रेशन और विभागों द्वारा प्रदत्त ए श्रेणी सर्वोत्तम प्रमाण पत्र को देख करोड़ो रूपयों का निवेश इस सोसायटी में किया। सोसायटी के प्रमोटर्स मंडल के गिरफ्तार होने एवं न्यायिक अभिरक्षा में होने से एवं आदर्श सोसायटी के विरूद्ध चल रही विभिन्न जांचो के चलते सोसायटी की भारत वर्ष में चल रही 800 से अधिक शाखाए बंद हो चुकी है। इसमें पीडि़त निवेशको के पास यही विकल्प रहा है कि वह न्यायालय के आदेश से राहत प्रदान करे और अपनी निवेश राशि को पुन: प्राप्त कर सके। जस्टिस दिनेश मेहता ने तमाम याचिकाओं पर संज्ञान लेते हुए 3039 निवेशको के पक्ष में याचिकाओं का निस्तारण करते हुए इन निवेशको का मामला 90 दिन में निपटाने का आदेश दिया है।


Share