सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद आदित्य ठाकरे का निशाना, वो बागी नहीं भगोड़े हैं’

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद आदित्य ठाकरे का निशाना, वो बागी नहीं भगोड़े हैं’
Share

मुंबई (कार्यालय संवाददाता)। सुप्रीम कोर्ट से बागियों को राहत मिलने के बाद शिवसेना नेता आदित्य ठाकरे ने बड़ा हमला बोला है। अपने निर्वाचन क्षेत्र वर्ली में एक कार्यक्रम संबोधित करते हुए आदित्य ठाकरे ने एकनाथ शिंदे पर निशाना साधते हुए कहा कि ये बागी नहीं भगोड़े हैं। जो भागकर जाते हैं वह कभी जीतते नहीं है। उन्होंने कहा कि अगर बगावत करनी थी तो यहीं करते। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने बागियों को अयोग्य ठहराने पर 11 जुलाई तक रोक लगाई है।

वर्ली में एक कार्यक्रम के दौरान आदित्य ठाकरे ने बागियों पर प्रहार करते हुए कहा, प्राण जाए पर वचन न जाए। जो लोग दगाबाजी करते हैं, जो भागकर जाते हैं, वह कभी जीतते नहीं है। हमें जीत का भरोसा है। बागियों पर तंज कसते हुए आदित्य ठाकरे ने कहा, ये बागी नहीं भगौड़े हैं, विधायकों को तो सामने आना ही पड़ेगा।

‘बगावत करनी थी तो यहीं करते’

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर आदित्य ठाकरे ने कहा कि कोर्ट का निर्णय अभी पढऩा पड़ेगा। वहीं फ्लोर टेस्ट को लेकर ठाकरे ने कहा कि उन्हें जीत का भरोसा है। आदित्य ठाकरे ने सवालों का जवाब देते हुए कहा, बागी विधायक मुंबई आएं और मेरी आंखों मे आंखें डालकर कहें कि हमने क्या गलत किया है। बगावत करनी थी तो यहीं करते।

‘ये राजनीति नहीं, सर्कस बन गया है’

संजय राउत के खिलाफ ईडी की कार्रवाई पर आदित्य ठाकरे ने कहा कि अब राजनीति नहीं रही, यह सर्कस बन गया है। सुप्रीम कोर्ट ने अपने अंतरिम आदेश में बागी विधायकों को डेप्युटी स्पीकर के नोटिस पर जवाब देने का समय बढ़ा दिया है। इन विधायकों को सोमवार शाम साढ़े पांच तक नोटिस का जबाव देना था। कोर्ट ने बागियों के जवाब देने का समय 12 जुलाई शाम साढ़े 5 बजे तक बढ़ा दिया है। इसके अलावा कोर्ट ने राय सरकार को 39 बागी विधायकों और उनके परिवार को सुरक्षा मुहैया कराने का आदेश दिया है।


Share