90% पात्र आबादी को पहला टीका लगा

90% of eligible population first vaccinated
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)।  सरकार ने रविवार को कहा है कि भारत के कोविड टीकाकरण के अभियान के लक्ष्य प्राप्त नहीं होने से संबंधित मीडिया में आयी खबरें गुमराह करने वाली है। केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने कहा कि कोविड-19 के विरूद्ध वैश्विक संघर्ष में भारत का राष्ट्रीय टीकाकरण अभियान कई विकसित पश्चिम देशों की तुलना में सबसे सफल और सबसे बड़ा है। मंत्रालय ने कहा कि मीडिया में आयी इस तरह की खबरें गुमराह करने वाली है और पूरी स्थिति नहीं दर्शाती है।

मंत्रालय के अनुसार 16 जनवरी, 2021 से शुरू हुआ राष्ट्रीय टीकाकरण अभियान में अभी तक पात्र नागरिकों को 90 प्रतिशत पहला टीका और 65 प्रतिशत को दूसरा टीका लगाया जा चुका है। इस अभियान में भारत में कई अभूतपूर्व उपलब्धियां हासिल की है। भारत में नौ महीने से भी कम समय में एक सौ करोड़ कोविड टीके लगाए हैं और एक दिन में दो करोड़ 51 लाख कोविड टीके दिए गए हैं।

मंत्रालय ने कहा कि अमरीका में मात्र 73.2% पात्र आबादी को कोविड का पहला टीका लगाया गया है। ब्रिटेन में 75.9%, फ्रांस 78.3% और स्पेन में 84.7% आबादी को कोविड का पहला टीका दिया गया है।

सरकार ने कहा है कि देश में 65 प्रतिशत से अधिक पात्र आबादी को कोविड का दूसरा टीका दिया जा चुका है । इसके अलावा देश  में 11 से अधिक राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने पहले ही शत प्रतिशत पात्र आबादी को पहला कोविड टीका दे दिया है। तीन राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोविड टीके की दोनों खुराक दी जा चुकी है।

मंत्रालय के अनुसार कई अन्य कई राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को जल्द ही शत प्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य हासिल कर लेंगे। कोविड टीकाकरण के हर घर दस्तक अभियान में प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचने का लक्ष्य रखा गया। इसके परिणामस्वरूप अभियान की शुरूआत के बाद से पहली खुराक में 11.6 प्रतिशत की वृद्धि हुई है जबकि दूसरी खुराक में 28.9 प्रतिशत की बढ़ती दर्ज की गयी है।

मंत्रालय ने कहा है कि तीन जनवरी से 15 से 18 वर्ष के आयु वर्ग के लिए टीकाकरण शुरू होगा। इसके पूरी तैयारियां कर ली गयी है। इसके अलावा 10 जनवरी से स्वास्थ्य कर्मियों, कोरोना योद्धाओं और वरिष्ठ नागरिकों को कोविड टीके की अतिरिक्त खुराक दी जायेगी।


Share