आकाशीय बिजली गिरने से 8 की मौत, झालावाड़ में 4, उदयपुर के टीडी में तीन व कोटड़ा में एक की गई जान : 5 झुलसे, दो मवेशी की भी मौत, कलेक्टर पहुंचे

8 died due to lightning
Share

नगर संवाददाता . उदयपुर। जिले में रविवार को आकाशीय बिजली गिरने से एक महिला, एक बच्चे सहित चार लोगों की मौत हो गई और पांच अन्य गंभीर रूप झुलस गए। इस हादसे में दो मवेशियिों की भी मौत हो गई। मृतकों में से एक महिला, एक बच्चा और एक पुरूष की टीड़ी में हुई और एक पुरूष और दो मवेशी कोटड़ा में मरे है। कोटड़ा में बिजली गिरने के दौरान जिला कलेक्टर वहीं पर मौजूद थे, जो मौके पर पहुँचे।

पुलिस के अनुसार टीड़ी थाना क्षेत्र के जाबला रोहिणिया फलां के जंगलों में रविवार शाम को कुछ लोग बकरियां चरा रहे थे और कुछ ग्रामीण खेत में काम कर रहे थे। इसी दौरान तेज बारिश के दौरान जंगल में बकरियां चरा रहे ग्रामीण जंगल में ही बारिश से बचने के लिए एक मकान में जाकर खड़े हो गए। इस दौरान आकाश्ीाय बिजली गिरने से जाबला उपला फलां निवासी मनीषा (23) पत्नी दिनेश मीणा, मनीष (22) पुत्र बाबूलाल मीणा, आशा (14) पुत्री मोहन मीणा की मौके पर ही मौत हो गई। इस घटना मे दिनेश पुत्र जालमचंद, मोहन पुत्र भैरूलाल, जीवा  पुत्र रामा, नरेन्द्र पुत्र मुकेश, मीनाक्षी पत्नी गणेश घायल हो गए। जिन्हें उपचार के लिए एमबी चिकित्सालय में भर्ती करवाया। तेज आवाज होने पर ग्रामीण मौके पर गए और पुलिस को बताया। इस पर टीड़ी थानाधिकारी गोपाल कृष्ण मौके पर पहुँचे और मृतको के शवों को मोर्चरी में रखवाकर घायलों को एमबी चिकित्सालय के लिए रैफर किया गया।

कोटड़ा थानाधिकारी पवनसिंह ने बताया कि थाना क्षेत्र के पाथरपाड़ी गांव में रविवार शाम को आकाशीय बिजली गिरने से खेत में कामकाज कर रहे लसा उर्फ लक्ष्मण (32) पुत्र साजा परमार गंभीर रूप से झुलस गया। घटना के दौरान जिला कलक्टर ताराचंद मीणा कुछ ही दूरी पर थे। उन्हें सूचना मिली तो वे तुरंत मौके पर पहुँचे और घायल को उसके परिजनों के साथ कोटड़ा हॉस्पिटल भेजा, जहाँ उपचार के दौरान लक्ष्मण ने दम तोड़ दिया। वही पाथरपाड़ी निवासी जगा पुत्र पूना के दो बैल पेड़ के नीचे बांध रखे थे जिन पर बिजली गिरने से दोनों बैलों की मौत हो गई। जिला कलक्टर ने तहसीलदार मंगला राम मीणा को पीडि़त परिवार के लिए राज्य सरकार से आर्थिक सहायता दिलाने के निर्देश दिए।

शनिवार को भी मरा एक बालक

इसी तरह गींगला थाना क्षेत्र में शनिवार को सराड़ी रोड़ पर तंबू में रहने वाले संपतनाथ (12) पुत्र नेमुनाथ कालबेलिया निवासी पीथलपुरा रायपुर भीलवाड़ा हाल सराड़ी रोड़ गींगला बारिश के दौरान अपने पिता नेमुनाथ और इसकी मां शांतिदेवी के साथ तंबू में था। इस दौरान बिजली गिरने से  संपत अचेत हो गया। जिसे उपचार के लिए चिकित्सालय पहुंचाया जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सूचना मिलने पर  गींगला थानाधिकारी कमलेन्द्रसिंह मौके पर पहुंचे और मृतक का पोस्टमार्टम करवा शव परिजनों को सौंप दिया।

झालावाड़ में गई 4 की जान

झालावाड़ में बारिश के दौरान आकाशीय बिजली गिरने से अलग-अलग कस्बों में चार जनों की मौत हो गई। वहीं एक महिला समेत दो जने गंभीर घायल हो गए। मंडावर थाना क्षेत्र के चूनाभाटी निवासी गजेंद्र (30) पुत्र रामकल्याण कुमावत, बाघेर निवासी कन्हैयालाल (48) पुत्र रतनलाल भील और बाबूलाल (43) पुत्र मोतीलाल भील तथा असनावर. गादिया मेहर गांव की नंदू बाई (47) पत्नी कनीराम लववंशी की बिजली गिरने से मौत हो गई।


Share