दूसरे चरण में 54.44% मतदान – रैली में नीतीश पर फेंके पत्थर-प्याज

पहले चरण का मतदान आज
Share

पटना (एजेंसी)। बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण में 17 जिलों की 94 सीटों के लिए 54.44 फीसदी मतदान हुआ। मुजफ्फरपुर जिले में सर्वाधिक 59.98 तो सबसे कम 48.23 फीसदी मतदान पटना जिले में हुआ है। विधानसभा क्षेत्र की बात करें तो सबसे कम 34.50 फीसदी दीघा तो सबसे अधिक 63.62 फीसदी मतदान चनपटिया में हुआ है। सीटों के लिहाज से यह चरण काफी महत्वपूर्ण था। कुल तीन चरणों में पूरा होने वाले लोकतंत्र के महापर्व के दूसरे मुकाम पर सर्वाधिक 94 सीटों पर उम्मीदवारों के बीच मुकाबला हुआ। इस चरण की वोटिंग संपन्न होने के साथ ही मैदान में खड़े नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव सहित चार मंत्रियों-श्रवण कुमार, रामसेवक सिंह, नंद किशोर यादव, राणा रणधीर के अलावा 1463 उम्मीदवारों का भाग्य ईवीएम में बंद हो गया। मुख्य निर्वाचन पदादिकारी एच श्रीनिवास ने मतदान को शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न होने पर आभार जताया।

बिहार विधानसभा चुनाव में तीसरे चरण के लिए धुआंधार प्रचार किया जा रहा है। मंगलवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जब मधुबनी के हरलाखी विधानसभा क्षेत्र में पहुंचे, तो उन्हें विरोध का सामना करना पड़ा। जब नीतीश रैली को संबोधित कर रहे थे, तब उन पर प्याज और पत्थर का टुकड़ा फेंका गया।

इस दौरान पत्थर फेंकने वाले शख्स ने लगातार नारेबाजी की और कहा कि शराब खुलेआम बिक रही है, तस्करी हो रही है लेकिन आप कुछ नहीं कर पा रहे हैं। इसी बीच नीतीश कुमार के सुरक्षाकर्मियों ने उस शख्स को रोकने का प्रयास किया, लेकिन नीतीश कुमार कहते नजर आए कि फेंकने दो, जितना फेंकना है फेंकने दो। इतना कहते ही नीतीश कुमार ने अपने संबोधन को आगे बढ़ाया, नीतीश ने कहा कि हम इसलिए कह रहे हैं कि सरकार आने के बाद रोजगार का अवसर पैदा होगा और किसी को बाहर नहीं जाना पड़ेगा। नीतीश बोले कि जो आज सरकारी नौकरी की बात कर रहे हैं, जब वो सत्ता में थे तो कितने लोगों को रोजगार दिया तब तो काफी वक्त तक बिहार-झारखंड एक ही था।

पहले भी हो चुका है विरोध बता दें कि इस बार चुनाव प्रचार के दौरान नीतीश कुमार को कई बार विरोध का सामना करना पड़ा है। कई रैलियों में नीतीश कुमार के सामने ही उनके खिलाफ नारेबाजी की गई है, जबकि खुद नीतीश ने भी नारेबाजी करने वाले लोगों को टोका है। मुजफ्फरपुर की रैली में भी नीतीश के सामने ही कुछ लोगों ने लालू यादव जिंदाबाद के नारे लगाए थे, तब मंच से ही नीतीश ने कहा था कि जिसके जिंदाबाद के नारे लगा रहे हो उसे ही सुनने जाओ, यहां क्यों आए हो। इसके अलावा कुछ जगहों पर नीतीश को काला झंडा दिखाया गया था।


Share