खाटूश्याम मासिक मेले में भगदड़ , 3 महिलाओं की मौत, 4 श्रद्धालु गंभीर घायल

3 women killed, 4 pilgrims seriously injured in stampede at Khatushyam monthly fair
Share

सीकर (कार्यालय संवाददाता)। सीकर जिले में खाटूश्यामजी के मासिक मेले में सोमवार सुबह भगदड़ मच जाने से 3 महिला श्रद्धालुओं की मौत हो गई जबकि 4 श्रद्धालु गंभीर रूप से घायल हो गए। पुलिस के अनुसार घटना में हरियाणा के हिसार की शांति देवी, उत्तर प्रदेश में हाथरस की माया देवी तथा जयपुर में मानसरोवर क्षेत्र निवासी कृपा देवी की मृत्यु हो गई जबकि हरियाणा में करनाल की इंद्रा देवी एवं अलवर की अनोजी देवी सहित 4 श्रद्धालु घायल हो गए। इनमें एक श्रद्धालु की हालत गंभीर होने पर उसे जयपुर एसएमएस अस्पताल भेजा गया हैं जबकि कुछ घायल श्रद्धालुओं को खाटूश्याम के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में ही उपचार कर दिया गया। घटना सुबह करीब सवा पांच बजे की है। सोमवार को एकादशी पर्व एवं सावन का आखिरी सोमवार होने से खाटूश्यामजी में श्रद्धालुओं की भीड़ ज्यादा थी और सुबह जब मंदिर प्रशासन ने दर्शन के लिए मंदिर का दरवाजा खोला तो भगदड़ मच गई और तीन महिलाएं उसके नीचे दब जाने से उनकी मौत हो गई। हादसे के बाद खाटूश्याम मंदिर परिसर में अफरा-तफरी का माहौल हो गया। श्रद्धालुओं के परिजन एक दूसरे के बारे में जानकारी लेनेे लगे। हालांकि घटना के बाद फिर से व्यवस्था बहाल होने पर मंदिर में दर्शन शुरू कर दिया गया और व्यवस्था के लिए और पुलिसकर्मी तैनात किए गए। घटना पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने दुख जताया हैं। इसी तरह भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डा सतीश पूनियां, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे, नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया, पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट सहित कई नेताओं ने घटना पर गहरा दुख व्यक्त किया। गहलोत ने इस पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए शोकाकुल परिजनों के प्रति गहरी संवेदना जताई और मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रूपए एवं घायलों को 20-20 हजार रूपए की सहायता के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस हादसे की संभागीय आयुक्त द्वारा जांच की जाएगी।


Share