बेगूं जेल से 3 बंदी फरार- तीनों दुष्कर्म, लूट के मामलों में बंद थे, रसोई की चिमनी का पाइप काटकर निकल भागे

बेगूं जेल से 3 बंदी फरार- तीनों दुष्कर्म, लूट के मामलों में बंद थे, रसोई की चिमनी का पाइप काटकर निकल भागे
Share

उदयपुर (नगर संवाददाता)। चित्तौडग़ढ़ की बेगूं जेल से मंगलवार को तीन बंदी फरार हो गए। तीनों रेप और लूट के केस में बंद थे। मंगलवार शाम को जब बंदियों की गिनती हुई, तो बंदियों के भागने का खुलासा हुआ। जेल प्रशासन ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर डीवाईएसपी राजेंद्र सिंह पहुंचे और अलग-अलग टीम बनाकर तलाश शुरू कर दी।

डीवाईएसपी ने बताया कि बेगूं उप कारागृह में शाम को जब भी गिनती की जा रही थी तो पता चला तीन बंदी सुनील पुत्र गरूडिया निवासी मंडावरी बेगूं, उम्र 30 साल, कैलाश पुत्र सुरेश कंजर निवासी बेगूं, उम्र 22 साल, धर्मल उर्फ निर्मल पुत्र मंगेरिया कंजर, उम्र 22 साल मौजूद नहीं हैं। जेल इंचार्ज प्रहलाद गुर्जर ने पुलिस को इसकी सूचना दी। मौके पर जाकर देखा तो जेल के रसोई घर में चिमनी में लगे लोहे के तीन सरियों को काटकर बंदी वहां से निकल गए।

48 बंदी थे अब तक

डीवाईएसपी ने बताया कि शाम को 6 बजे के करीब इस घटना की जानकारी मिली। उसके बाद पूरे नगर में अलग-अलग टीम बनाकर संभावित क्षेत्रों में बंदियों की तलाश शुरू कर दी। बंदियों के घर पर भी तलाशी ली जा रही है। उन्होंने बताया कि अभी बेगूं जेल में 48 बंदी बंद थे, लेकिन तीन भाग गए। जेल प्रभारी प्रहलाद गुर्जर की ओर से एफआईआर दर्ज की गई है।


Share