265080 करोड़ के पैकेज की घोषणा – सरकार ने दिया दिवाली का तोहफा

265080 करोड़ के पैकेज की घोषणा
Share

नई दिल्ली (नई दिल्ली)। सुस्ती से जूझ रही इकॉनमी को सहारा देने के लिए सरकार ने आज आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 की घोषणा की। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इसके तहत 265080 करोड़ रूपये के 12 उपायों की घोषणा की। इसमें फर्टिलाइजर के लिए 65000 करोड़ रूपये की सब्सिडी दी जाएगी। सरकार ने दावा किया कि इससे 14 करोड़ किसानों को फायदा होगी। साथ ही कोरोना वैक्सीन के शोध एवं विकास के लिए 900 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया है।

सीतारमण ने आत्मनिर्भर भारत अभियान 3.0 के तहत कुल 2,65,080 करोड़ रूपये के 12 उपायों की घोषणा। उन्होंने कहा कि यह राशि जीडीपी का 15 फीसदी है। उन्होंने कहा कि कोविड वैक्सीन के शोध एवं विकास के लिए 900 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया है। कोविड सुरक्षा मिशन के तहत यह राशि डिपार्टमेंट ऑफ बायोटेक्नोलॉजी को दी जाएगी। कैपिटल और इंडस्ट्रियल एक्सपेंडीजर के लिए अतिरिक्त 10200 करोड़ रूपये जाएंगे। इससे रक्षा उपकरण बनाने वाली घरेलू कंपनियों और ग्रीन एनर्जी कंपनियो को फायदा होगा।

एक्सपोर्ट बढ़ाने पर जोर

वित्त मंत्री ने कहा कि प्रोजेक्ट एक्सपोर्ट बढ़ाने के लिए एक्जिम बैंक को 3000 करोड़ रूपये लाइन ऑफ क्रेडिट के रूप में दिए जाएंगे। इसी तरह पीएम गरीब कल्याण रोजगार योजना के लिए 10 हजार करोड़ रूपये का अतिरिक्त प्रावधान। इसके लिए रूरल इकॉनमी को बढ़ावा मिलेगा। फर्टिलाइजर के लिए 65000 करोड़ रूपये की सब्सिडी दी जाएगी। इससे 14 करोड़ किसानों को फायदा होगी। देश में खाद की खपत 2019-20 के मुकाबले 17.8 फीसदी बढ़ी है। सरकार एनआईआईएफ के डेट प्लेटफॉर्म में 6000 करोड़ रूपये इक्विटी के रूप में निवेश करेगी। डेवलपर्स और घर खरीदारों को इनकम टैक्स में राहत। इससे रियल एस्टेट को बूस्ट मिलेगा और मध्य वर्ग को राहत मिलेगी। सर्कल रेट और एग्रीमेंट वैल्यू में अंतर को 10 फीसदी से बढ़ाकर 20 फीसदी करने का फैसला किया गया है। कंस्ट्रशन और इन्फ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में लगी कंपनियों को कैपिटल और बैंक गारंटी में राहत दी गई है। परफॉर्मेंस सिक्योरिटी को कम करके 3 फीसदी किया गया है। इससे ठेकेदार कंपनियों को राहत मिलेगी।


Share