मोदी की जनसेवा के 20 साल : अमित शाह बोले- ‘हर विरोध के साथ और मजबूत होते हैं PM’

प्रधानमंत्री मोदी का गुजरात दौरा
Share

नई दिल्ली (एजेंसी)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की जनसेवा के 20 साल पूरा होने पर गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि उन्होंने देश के हर क्षेत्र में विकास किया और आज पूरा देश विकास पथ पर चल पड़ा है। इसके साथ ही कहा कि हर विरोध के साथ नरेंद्र मोदी जी और मजबूत होते हैं और देश की जनता चट्टान की तरह उनके साथ खड़ी है।

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संवैधानिक पद की जिम्मेदारी संभालते हुए इसी हफ्ते अपने 20 साल पूरे कर लिए। इस दौरान वो लगभग 13 साल तक गुजरात के मुख्यमंत्री रहे और अब 7 साल से देश के प्र.म. हैं। पिछले तीन दशक से प्रधानमंत्री मोदी के सहयोगी रहे अमित शाह ने कहा कि 2001 शुरू हुई विकास और सुशासन की यात्रा आज तक लगातार जारी है। शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री का तपस्वी जीवन हम सभी के लिए एक प्रेरणापुंज है। इतने साल से उनके साथ निरंतर काम करना उनके लिए सौभाग्य और गर्व की बात है। संसद टीवी से बातचीत करते हुए अमित शाह ने कहा कि मोदी जी के आने से हर तरफ बदलाव दिख रहा है।

विकास की राह पर देश

उन्होंने कहा, यूपीए की सरकार में हर क्षेत्र में देश नीचे की ओर जा रहा था, दुनिया में देश का कोई सम्मान नहीं था, नीतिगत फैसले महीनों तक सरकार की आंतरिक कलह में उलझते रहते थे, एक मंत्री महोदय तो 5 साल तक कैबिनेट में नहीं आए। ऐसे माहौल में मोदी जी ने देश के प्रधानमंत्री का पद संभाला, आज सारी व्यवस्थाएं अपनी जगह पर सही हो रही हैं।

जोखिम लेकर काम करते हैं प्र.म. मोदी

शाह के मुताबिक, इसमें कोई दो राय नहीं कि प्र.म. मोदी जोखिम लेकर सही फैसले करते हैं। उन्होंने कहा कि उनका लक्ष्य देश में परिवर्तन लाना है। 130 करोड़ की आबादी वाले विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र को दुनिया में एक सम्मानजनक स्थान पर पहुंचाना है। शाह ने आगे कहा, तीन तलाक पर कानून, वन रैंक-वन पेंशन लागू करने की कोई हिम्मत नहीं करता था, सर्जिकल व एयर स्ट्राइक पर सब चुप थे, धारा 370 को हटाने की कोई हिम्मत नहीं करता था, विभिन्न आर्थिक सुधार जैसे फैसले मजबूत इच्छा शक्ति वाला प्रधानमंत्री ही कर सकता है।

‘लीक से हट कर काम करते हैं प्र.म.’

अमित शाह के मुताबिक प्रधानमंत्री ने देश की ढेर सारी समस्याओं को पारंपरिक सोच के अलग होकर हल किया। उन्होंने कहा, यही तो रिफॉर्म हैं। अनुच्छेद 370, सीएए, आर्थिक, सामाजिक क्षेत्र में कई फैसले किए। कृषि को प्राथमिकता देना, ये देश के लिए बहुत बड़ा रिफॉर्म है।

‘विरोध से और मजबूत हो रहे हैं प्र.म.’

शाह ने आगे कहा, हर विरोध के साथ नरेन्द्र मोदी जी और मजबूत होते हैं और उससे मोदी जी का हौसला बढ़ता है। लोकतंत्र में इससे बड़ी उपलब्धि क्या हो सकती है कि एक व्यक्ति कड़े फैसले लेता है और देश की जनता चट्टान की तरह उसके साथ खड़ी रहती है।


Share