सीमा पर 2 घुसपैठिये ढेर -2 पिस्टल और 8 किलोग्राम हेरोइन बरामद

सीमा पर 2 घुसपैठिये ढेर
Share

जोधपुर (कार्यालय संवाददाता)। शांत समझी जाने वाली राजस्थान सीमा पर भी पाकिस्तान ने अब नई रणनीति के तहत घुसपैठ तेज कर दी है। राजस्थान में श्रीगंगानगर सेक्टर में भारत-पाक सीमा पर बीएसएफ ने बुधवार तड़के दो पाकिस्तानी घुसपैठियों को मार गिराया। ख्यालीवाला सीमा चौकी के निकट भारतीय सीमा में तारबंदी के निकट मारे गए इन दोनों पाकिस्तानियों के पास से दो पिस्टल व करीब 8 किलोग्राम हेरोइन बरामद की गई है।

चेतावनी के बाद भी नहीं माने घुसपैठिए

जोधपुर स्थित बीएसएफ के राजस्थान फ्रंटियर मुख्यालय के अधिकारियों ने बताया कि तड़के श्रीगंगानगर सेक्टर की ख्यालीवाला सीमा चौकी पर गश्त कर रहे जवानों ने सीमा पर कुछ हलचल देखी। उन्होंने चेतावनी देते हुए घुसपैठियों को वापस अपनी सीमा में लौटने को कहा। इसके बावजूद वे आगे बढ़ते हुए बिल्कुल तारबंदी के समीप आ गए। कई चेतावनी देने के बावजूद नहीं रूकने पर जवानों ने गोलियां दागनी शुरू कर दी। गोलियां लगते ही दोनों घुसपैठिये वहीं पर ढेर हो गए। अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि घुसपैठियों ने भी जवानों पर कोई जवाबी फायरिंग की या नहीं।

घुसपैठियों के पास नाइट विजन डिवाइस भी मिली

बाद में तलाशी लेने पर दोनों घुसपैठियों के पास से दो पिस्टल, 28 कारतूस, 4 मैगजीन, एक नाइट विजन डिवाइस के अलावा नशीले पदार्थ के एक-एक किलोग्राम के आठ पैकेट बरामद हुए। प्रारंभिक जांच में यह हेरोइन बताई जा रही है। घुसपैठियों के पास से 13 हजार रूपए की पाकिस्तानी मुद्रा भी बरामद हुई है। इनके पास से एक परिचय पत्र मिला है। उस पर शहबाज अली पुत्र मुश्ताक अहमद लिखा है। बीएसएफ ने दोनों शव कब्जे में लेकर पाकिस्तानी रेंजर्स को शव वापस सौंपने के लिए उसके साथ फ्लैग मीटिंग की प्रक्रिया शुरू की है।

पाकिस्तान का अब राजस्थान सीमा पर फोकस

राजस्थान से सटी पाकिस्तान की सीमा को शांत माना जाता है। यहां लगातार की हुई तारबंदी और मीलों तक फैले रेगिस्तान के कारण घुसपैठ करना आसान नहीं माना जाता है। लेकिन गत कुछ समय से नशीले पदार्थ के तस्कर पंजाब सीमा पर ज्यादा सक्रिय थे। पंजाब में बीएसएफ की सख्ती के बाद पाकिस्तान ने अपना ध्यान राजस्थान सीमा पर केन्द्रित किया है। एक माह के भीतर राजस्थान सीमा से नशीले पदार्थ व नकली भारतीय नोट भेजने का यह तीसरी घटना सामने आई है।

इससे पहले पिछले माह बाड़मेर सेक्टर में इस तरह के दो मामले सामने आए थे। बाड़मेर में तो नकली नोटों की खेप सीमा पार से गांवों तक पहुंच गई थी और करीब एक लाख रूपए के नकली नोट चलाने के बाद आरोपी पकड़ में आए थे। यह मामला सामने आने के बाद बीएसएफ की सीमा पर चौकसी को लेकर सवालिया निशान खड़े हो गए थे। इसके बाद बीएसएफ एकदम अलर्ट मोड में आ गई और उसने राजस्थान से सटी पाकिस्तानी सीमा पर अपनी गश्त को पहले की अपेक्षा कहीं बेहतर कर दिया।


Share