राजस्थान में 17155 संक्रमित केस मिले, 155 की मौत

कोरोना के दूसरी लहर की चपेट में अमेरिका
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। राजस्थान में बढ़ते कोरोना केसों के बीच राहत की खबर है। आज लगातार दूसरे दिन प्रदेश में 10 हजार से ज्यादा मरीज ठीक हुए हैं। इसमें जयपुर, कोटा और उदयपुर ऐसे शहर हैं, जहां एक हजार से ज्यादा मरीज रिकवर हुए हैं। हालांकि, जयपुर, जोधपुर सहित कई बड़े शहरों में बेड नहीं हैं। ऑक्सीजन के लिए मारामारी की स्थिति है। पिछले 24 घंटे की रिपोर्ट देखें तो प्रदेश में 17,155 नये संक्रमित केस मिले हैं। 155 लोगों की मौत हुई है।

राज्य सरकार ने बढ़ते संक्रमण को देखते हुए उपकरणों की खरीद जल्द से जल्द करने का निर्णय किया है। इसके लिए 3 आईएएस की एक टीम बनाई है। ये टीम ऑक्सीजन कन्सन्ट्रेटर, ऑक्सीजन रेगुलेटर व ह्यूमिडिफायर आदि की खरीद, आपूर्ति सहित अन्य कार्य करेगी। इसमें अतिरिक्त मुख्य सचिव सुबोध अग्रवाल, प्रीतम बी. यशवंत और टीना डाबी शामिल हैं।

एक्टिव केस पौने दो लाख के पार

राज्य में आज एक्टिव केसों की संख्या बढ़कर 1.76 लाख के ज्यादा हो गई। वहीं चिंताजनक बात ये है कि राज्य में रिकवरी रेट 70त्न से नीचे आ गया है। आज रिकवरी रेट 69.77त्न दर्ज की गई है। हालांकि एक सुकून वाली खबर ये है कि 5 शहरों में एक्टिव केसों का ग्राफ आज नीचे आया, जिसमें बांसवाड़ा, भीलवाड़ा, कोटा, पाली, उदयपुर और सिरोही शामिल है। इन शहरों में आज जितने पॉजिटिव केस मिले है उससे ज्यादा रिकवर हुए है।

जयपुर में सबसे ज्यादा केस और मौत

प्रदेश में कल जिलेवार रिपोर्ट देखें तो सबसे ज्यादा केस 3616 जयपुर में मिले हैं। एक दिन में केस मिलने का यह सर्वाधिक आंकड़ा है। इस बीमारी से कल 40 लोगों की मौत हो गई। बढ़ते कोरोना केसों को देखते हुए सरकार ने स्रूस् अस्पताल में एक हजार बेड्स कोरोना मरीजों के लिए जल्द शुरू करने का निर्णय किया है।

मौत का आंकड़ा सवा चार सौ के पार

जोधपुर में 2339 पॉजिटिव केस आए हैं, जबकि 38 लोगों की मौत हो गई। जोधपुर में इस माह मौत का आंकड़ा सवा चार सौ के पार कर गया। जोधपुर में हालात ये है कि पिछले लंबे समय से लोगों को अस्पतालों में भर्ती होने के बेड्स उपलब्ध नहीं हो रहे। इसे देखते हुए वहां के अस्पतालों में अब बेड्स कैपेसिटी को बढ़ाया जा रहा है।

उदयपुर में कम हो रहे केस

उदयपुर में भी स्थिति अभी कंट्रोल में नहीं आई है। हालांकि राहत की बात ये है कि यहां पिछले कुछ दिनों से जितने मरीज आ रहे है उतने या उससे ज्यादा रिकवर हो रहे हैं। इस कारण यहां एक्टिव केसों की संख्या में धीरे-धीरे कमी हो रही। लेकिन संक्रमित केस अब भी 500 से ज्यादा आने के कारण अस्पतालों में मरीजों का लोड कम नहीं हुआ है।

कोटा में ऑक्सीजन के लिए मारामारी

कोटा में कोरोना की रफ्तार कम होने का नाम नही ले रही। यहां हर रोज 18-19त्न की दर से संक्रमित मरीज सामने आ रहे हैं। आज 4094 सैम्पल की जांच में 762 नए संक्रमित मिले, जबकि 4 की मौत हो गई 1279 मरीज स्वस्थ हुए हैं। अलग-अलग कोविड अस्पताल में पॉजिटिव, नेगेटिव, सस्पेक्टेड 21 मरीजों ने दम तोड़ा है। इधर कोटा में अब भी ऑक्सीजन की किल्लत बनी हुई है। कोविड अस्पताल में बेड्स फुल हो चुके हैं। नए मरीजों को भर्ती नहीं किया जा रहा। निजी के अलावा सरकारी अस्पतालों में भी जो मरीज भर्ती है उनके परिजनों को ऑक्सीजन के लिए इधर उधर भटकना पड़ रहा है।


Share