एक दिन में कोरोना के 16 लाख केस, 7000 मौतें

16 lakh cases of corona in a day, 7000 deaths
Share

न्यूयॉर्क/लंदन/पेरिस (एजेंसी)। दुनिया में एक बार फिर से कोरोना ने तबाही मचानी शुरू कर दी है। इस बार ओमिक्रॉन वैरिएंट के कारण रिकॉर्ड मामले सामने आ रहे हैं। अमेरिका, फ्रांस और ब्रिटेन में कोरोना के नए मामलों ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। बीते दिन 16 लाख से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं और 7 हजार से ज्यादा मौतें हुईं हैं। इसी बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने भी चेतावनी दी कि डेल्टा के प्रकोप के दौरान ही ओमिक्रॉन का ज्यादा संक्रामक होना सुनामी ला रहा है।

डब्ल्यूएचओ चीफ ट्रेडोस गेब्रेयेसस ने बताया कि पिछले हफ्ते की तुलना में इस हफ्ते नए मामलों में 11 फीसदी का उछाल आया है। उन्होंने बताया कि 20 से 26 दिसंबर के बीच करीब 50 लाख नए मामले दर्ज किए गए। इनमें से आधे से ज्यादा यूरोप में थे।

बीते दिन दुनियाभर में 16.13 लाख नए मामले सामने आए हैं और 7,391 मौतें हुईं हैं। जबसे कोरोना महामारी शुरू हुई है, तब से पहली बार है जब एक दिन में इतने ज्यादा मामले सामने आए हैं।

अमेरिका-फ्रांस-ब्रिटेन में टूटे सारे रिकॉर्ड

अमेरिका : जॉन हॉप्किन्स यूनिवर्सिटी के आंकड़ों के मुताबिक, अमेरिका में बुधवार को रिकॉर्ड 2.65 लाख से ज्यादा नए मामले सामने आए। इससे पहले 11 जनवरी को 2.52 लाख मामले सामने आए थे। ओमिक्रॉन के खतरे के बीच अमेरिका में कई फ्लाइट कैंसिल हो गईं हैं। वहीं, टॉप इन्फेक्शियस डिसीज एक्सपर्ट डॉ. एंथनी फौची ने कहा कि जो लोग वैक्सीनेटेड हैं या बूस्टर डोज ले चुके हैं, उन्हें घर पर पार्टी कैंसिल करने की जरूरत नहीं है।

ब्रिटेन : यूके के डेटा के मुताबिक, यहां बुधवार 1.83 से ज्यादा नए मामले सामने आए जो अब तक का रिकॉर्ड है। वहीं, 57 मरीजों ने दम तोड़ दिया। ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने लोगों से नया साल सावधानी से मनाने की अपील की है। उन्होंने कहा कि अभी भी अस्पतालों में बहुत से डॉक्टर ऐसे हैं जिन्हें बूस्टर डोज नहीं लगी है।

फ्रांस : यहां भी कोरोना मामलों की सुनामी देखने को मिल रही है। बुधवार को यहां रिकॉर्ड 2.08 लाख मामले सामने आए। मंगलवार को यहां 1.80 लाख केस आए थे जो किसी भी यूरोपीय देश में आए कोरोना मामलों का रिकॉर्ड था। फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि हमारे देश में हर सेकंड 2 लोग पॉजिटिव आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमने कभी ऐसी स्थिति का सामना नहीं किया।

यूरोप : ब्रिटेन और फ्रांस ही नहीं, यूरोप के कई दूसरे देशों में हर दिन कोरोना के नए मामलों के रिकॉर्ड टूट रहे हैं। अर्जेंटिना में बुधवार को 42,032 नए केस आए जो मई के बाद सबसे ज्यादा हैं। इटली में भी बुधवार को 98,030 नए केस आए, जबकि एक दिन पहले यहां 78,313 मामले सामने आए थे।

क्या 2022 में पीछे छूट जाएगी महामारी?- विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख ट्रेडोस गेब्रेयेसस ने कहा कि डेल्टा और ओमिक्रॉन मिलकर भले ही कोरोना की सुनामी ला रहे हैं, लेकिन उम्मीद है कि 2022 में दुनिया सबसे खराब महामारी को पीछे छोड़ देगी। उन्होंने ये भी कहा कि अभी ये कहना भी जल्दबाजी होगा कि ओमिक्रॉन कम गंभीर है। टेड्रोस ने कहा कि स्वास्थ्य असमानता को खत्म करने से ही महामारी खत्म हो सकती है। उन्होंने कहा कि इस साल के आखिर तक 40 फीसदी आबादी का वैक्सीनेट होने से चूकना न केवल शर्म की बात है बल्कि इससे कई लोगों की जान चली गई और वायरस को म्यूटेट होने में मदद मिली।


Share