राजस्थान में कोरोना से 158 की मौत – मुख्यमंत्री गहलोत भी पॉजिटिव

कोरोना वायरस स्पर्श से नहीं फैलता, नए शोध के दावे
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। प्रदेश में कोरोना संक्रमण से मौतों का जो आंकड़ा सामने आ रहा है, हर दिन दहशत बढ़ा रहा है। राज्य में एक दिन में 158 कोरोना मरीजों की मौत दर्ज की गई है। यह राज्य में महामारी के इस दौर की अब तक की सबसे ज्यादा मौतें हैं। राज्य में कोरोना संक्रमण दर में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। कुल 17269 नए कोरोना पॉजिटिव प्रदेश में मिले हैं, जबकि रिकवर 10964 ही हुए हैं। इस अंतर के चलते एक्टिव केस 1 लाख 70 हजार के करीब पहुंच गए हैं। अभी राज्य में 169519 एक्टिव केस हैं।  चिकित्सा विभाग ने आदेश जारी कर गंभीर मरीजों को ही अस्पतालों में भर्ती करने की अपील की है। सामान्य लक्षणों वाले मरीजों को घर पर ही इलाज लेना होगा। राज्य सरकार इस महामारी से निपटने के लिए अब तक अस्पताल, बैड, ऑक्सीजन, दवाइयां, डॉक्टर्स और अन्य मशीनरी नहीं जुटा पाई है।

यह रहा कोरोना का गणित

कोरोना के जयपुर में 3602, जोधपुर में 2036, उदयपुर में 1105, अलवर 1101, सीकर 849, बीकानेर 801, पाली 702, कोटा 701, अजमेर 523, भीलवाड़ा 518, सिरोही 403, चित्तौडग़ढ़ 402, झालावाड़ 367, बारां 357, राजसमंद 351, हनुमानगढ़ 330, जैसलमेर 301, बांसवाड़ा 245, बाड़मेर 237, प्रतापगढ़ 236, दौसा 233, श्रीगंगानगर 210, धौलपुर 201, डूंगरपुर 201, जालौर 201, झुंझनुं 199, नागौर 179, टोंक 178, बूंदी 150, भरतपुर 117, चूरू 103, करौली 101, सवाईमाधोपुर से 29 नए मरीज मिले हैं।

26 जिलों में हुई मौतें

जयपुर में 32, जोधपुर में 30, उदयपुर में 12, सीकर में 10, बाड़मेर 10, कोटा 8, बीकानेर 7, (शेष पृष्ठ ८ पर)

डूंगरपुर 7, भीलवाड़ा 6, अलवर 5, अजमेर 4, सिरोही 4, टोंक 3, झालावाड़ 3, झुंझुनूं 2, नागौर 2, पाली 2, भरतपुर 2, राजसमंद 2, बांसवाड़ा, सवाईमाधोपुर, प्रतापगढ़, बूंदी, चित्तौडग़ढ़, चूरू, करौली में एक-एक मरीज की मौत हुई है।

देसी टीका हुआ सस्ता | कोवैक्सीन ने कीमत 200 रू घटाई

भारत बायोटेक ने राज्य सरकारों के लिए कोरोना वैक्सीन की रेट घटा दी है। राज्यों को कोवैक्सीन की एक डोज पर 400 रूपये प्रति डोज के रेट से ही मिलेगी। इससे पहले प्रति डोज 600 रूपये की का रेट राज्य सरकारों के लिए तय किया गया था। कंपनी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि मौजूदा समय में कोरोना से जंग के लिए पब्लिक हेल्थ सिस्टम को मजबूती देने के लिए यह फैसला लिया गया है। कंपनी का कहना है कि हम भारत में इनोवेशन को बढ़ावा देना चाहते हैं और हमारा लक्ष्य देश में पब्लिक हेल्थ केयर को मजबूत करना है। इससे पहले कोविशील्ड ने भी अपनी वैक्सीन की कीमत राज्य सरकारों के लिए 100 रूपये प्रति डोज घटाई थी। इससे पहले कोविशील्ड को राज्य सरकारों को 400 रूपये प्रति डोज देने का फैसला हुआ था, लेकिन बाद में उसे कंपनी की ओर से 300 रूपये प्रति डोज ही तय कर दिया गया।

इससे पहले केंद्र सरकार की ओर से दोनों ही कंपनियों से वैक्सीन के  रेट्स में कटौती की अपील की थी। इसके अलावा कई राज्य सरकारों की ओर से केंद्र और राज्य एवं अस्पतालों के लिए वैक्सीन का एक ही रेट तय किए जाने की मांग की गई थी। कंपनी की ओर से जारी बयान में कहा गया है, भारत बायोटेक देश में कोरोना महामारी की मौजूदा स्थिति से चिंतित है। पब्लिक हेल्थ केयर सिस्टम के सामने बड़ी चुनौती को देखते हुए हम राज्य सरकारों को इसे 400 रूपए प्रति डोज के हिसाब से उपलब्ध कराएंगे।

राजस्थान में कोरोना संक्रमण के मामलों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी संक्रमण की चपेट में आ गए हैं। गहलोत ने गुरूवार को खुद सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी है। उन्होंने लिखा, कोविड टेस्ट करवाने पर आज मेरी रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई है। मुझे किसी तरह के लक्षण नहीं हैं और मैं ठीक महसूस कर रहा हूं। कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए मैं आइसोलेशन में रहकर ही कार्य जारी रखूंगा। इससे पहले बुधवार को ही मुख्यमंत्री की पत्नी सुनीता गहलोत की रिपोर्ट भी पॉजिटिव आई थी।

वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके हैं गहलोत

गहलोत कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज ले चुके हैं। उन्होंने फरवरी में पहला और मार्च के आखिर में दूसरा डोज लिया था। एक्सपर्ट के मुताबिक वैक्सीन की दोनों डोज के बाद कोरोना होने के बावजूद खतरा कम हो जाता है। राज्यपाल  कलराज मिश्र ने गुरूवार को व्यक्तिश: फोन कर मुख्यमंत्री  अशोक गहलोत एवं उनकी धर्मपत्नी के स्वास्थ्य की जानकारी ली। उन्होंने फोन पर संवाद में मुख्यमंत्री  गहलोत एवं उनकी पत्नी के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करतेे हुए उन्हें सावधानी और सतर्कता रखने पर भी जोर दिया। राजस्थान विधानसभा अध्य्क्ष डॉ. सी.पी. जोशी, पूर्व मुख्यमन्त्री वसुंधरा राजे, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष गोङ्क्षवद ङ्क्षसह डोटासरा, भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष डॉ. सतीश पूनियां सहित कई नेताओं ने मुख्यमन्त्री अशोक गहलोत के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की हैं। श्रीमती राजे ने भी ईश्वर से मुख्यमंत्री और उनकी पत्नी सुनीता के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की प्रार्थना की।


Share