खत्म हुआ इंतजार : महाराष्ट्र में 15 मंत्री आज लेंगे शपथ

Wait ends: 15 ministers to take oath in Maharashtra today
Share

मुंबई (कार्यालय संवाददाता)। महाराष्ट्र में एकनाथ शिंदे सरकार कैबिनेट विस्तार का इंतजार अब खत्म होने वाला है। भाजपा के एक सीनियर नेता ने दावा किया है कि मंगलवार को राज्य की सरकार का कैबिनेट विस्तार होगा। इस दौरान करीब एक दर्जन विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई जा सकती है। सबसे अहम गृह मंत्रालय डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस के खाते में जा सकता है। भाजपा के एक सीनियर नेता ने कहा, कैबिनेट का विस्तार मंगलवार को मुंबई में होगा। मैं इस बारे में ज्यादा डिटेल नहीं दे सकता। यह भी नहीं बता सकता कि किसे इसमें जगह मिल जाएगी। बीते कुछ दिनों में देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे ने कई बार दिल्ली का दौरा किया है। गत सप्ताहांत भी दोनों नेता दिल्ली में ही थे और सीएम एकनाथ शिंदे ने नीति आयोग की बैठक में भी हिस्सा लिया था। रविवार को ही सूत्रों के हवाले से यह जानकारी सामने आई थी कि नए सप्ताह में एकनाथ शिंदे अपनी कैबिनेट का विस्तार कर सकते हैं।

इसमें कुल 15 मंत्रियों को जगह मिल सकती है। कहा जा रहा है कि देवेंद्र फडणवीस को होम मिनिस्ट्री मिल सकती है। इसके अलावा चंद्रकांत पाटिल, आशीष शेलार और सुधीर मुनगंटीवार को भी कैबिनेट में जगह मिल सकती है। सूत्रों के मुताबिक कैबिनेट विस्तार में 7 विधायक एकनाथ शिंदे गुट के और 8 भाजपा के विधायक मंत्री पद की शपथ ले सकते हैं। शनिवार को ही एकनाथ शिंदे ने बताया था कि कैबिनेट विस्तार में देरी के चलते सरकार का कामकाज प्रभावित नहीं हुआ था और जल्दी ही कुछ और मंत्रियों को शामिल किया जा सकता है। कैबिनेट विस्तार में भाजपा की ओर से नगर निकाय चुनाव और 2024 के आम चुनाव का ध्यान रखा जा सकता है। खासतौर पर भाजपा खुद को ऐसे इलाकों में मजबूत करने पर फोकस कर रही है, जो शिवसेना और एनसीपी के गढ़ रहे हैं।

30 जून से ही महाराष्ट्र में चल रही थी टू-मैन सरकार : 30 जून को एकनाथ शिंदे और देवेंद्र फडणवीस ने शपथ ली थी, लेकिन तब से ही टू-मैन सरकार चल रही थी। इसे लेकर विपक्ष की ओर से भी आलोचना की जा रही थी। अजीत पवार ने कहा था कि कैबिनेट विस्तार न करके प्रदेश के हितों को नुकसान पहुंचाया जा रहा है। इस पर जवाब देते हुए फडणवीस ने कहा था, अजीत पवार विपक्ष के नेता हैं। वह ऐसी बातें कर सकते हैं। अजीत दादा भूल जाते हैं कि जब वह सरकार में थे तो 32 दिनों तक 5 ही मंत्री थे।


Share