दूसरे दिन भी गिरे 11 विकेट & दूसरी पारी में भारत 85/2, लीड 58 रनों की हुई | जोहान्सबर्ग में ठाकुर का कहर, 7 विकेट ले दक्षिणी अफ्रीका को  229 पर समेटा, द. अफ्रीका में सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले गेंदबाज भी बने

11 wickets fell on the second day too & India 85/2 in the second innings, lead 58 runs
Share

 

जोहान्सबर्ग (एजेंसी)।  जोहान्सबर्ग टेस्ट के दूसरे दिन स्टंप्स तक टीम इंडिया ने अपनी दूसरी पारी में 2 विकेट खोकर 85 रन बनाए हैं। चेतेश्वर पुजारा (35) और अजिंक्य रहाणे (11) नाबाद पर हैं। कप्तान केएल राहुल 8 और मयंक अग्रवाल 23 रन बनाकर आउट हुए। टीम इंडिया के पास अब 58 रनों की बढ़त है।

इससे पहले दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी 229 रन के स्कोर पर सिमट गई। शार्दूल ठाकुर ने करियर बेस्ट परफॉर्मेंस करते हुए 61 रन देकर सात विकेट लिए। मोहम्मद शमी ने दो और जसप्रीत बुमराह ने एक विकेट लिया। शार्दूल इस ग्राउंड पर एक पारी में सबसे अच्छा प्रदर्शन करने वाले भारतीय गेंदबाज बन गए हैं। उन्होंने अनिल कुंबले (53/6) का रिकॉर्ड तोड़ा। इसी के साथ शार्दुल ने दक्षिण अफ्रीका में सर्वश्रष्ठ प्रदर्शन करने वाले गेंदबाज भी बन गए इससे पहले हरभजन सिंह ने 2010/11 में केप टाउन में 120 रन देकर सात विकेट लिए थे।

मेजबान टीम ने पहली पारी के आधार पर 27 रनों की बढ़त हासिल की है। भारत ने पहली पारी में 202 रन बनाए थे। दक्षिण अफ्रीका की ओर से कीगन पीटरसन ने 62 और तेंबा बाउमा ने 51 रन बनाए।

शार्दूल ने अपने टेस्ट करियर में पहली बार पारी में पांच या इससे ज्यादा विकेट लिए हैं। वे वांडरर्स में पारी में पांच विकेट लेने वाले भारत के छठे गेंदबाज बन गए हैं। उनसे पहले मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, एस. श्रीसंत, जवागल श्रीनाथ और अनिल कुंबले यह कारनामा कर चुके हैं। अफ्रीकी टीम का दूसरा विकेट 88 के स्कोर पर गिरा था, लेकिन इसके बाद टीम की पारी लडख़ड़ाई और 102 रनों तक 4 विकेट गंवा दिए। दूसरे दिन के तीनों विकेट पहले सेशन के आखिरी आधे घंटे में गिरे और तीनों शार्दूल ने लिए। उन्होंने इसके बाद चार और विकेट अपने नाम किए।

लॉर्ड शार्दूल ने कराई जोरदार वापसी

दक्षिण अफ्रीका ने भारत पर 27 रन की बढ़त हासिल की थी। दक्षिण अफ्रीका ने मंगलवार को एक विकेट पर 35 रन से आगे खेलना शुरू किया। कप्तान डीन एल्गर और कीगन पीटरसन ने दूसरे विकेट के लिए 74 रन की साझेदारी निभाई। इसके बाद कप्तान केएल राहुल ने शार्दुल ठाकुर को बॉलिंग पर लगाया। शार्दुल ने कप्तान को नाराज नहीं किया और एल्गर को पंत के हाथों कैच कराकर साझेदारी तोड़ी। वह 120 गेंदों पर 28 रन बना सके।

दूसरे दिन शार्दूल ठाकुर ने टीम इंडिया की जोरदार वापसी कराई। पहले उन्होंने अफ्रीकी कप्तान डीन एल्गर (28 रन) को आउट कर पवेलियन का रास्ता दिखाया और फिर नजरें जमा चुके कीगन पीटरसन (62 रन) को आउट कर भारत को तीसरी सफलता दिलाई। शार्दूल ने पीटरसन को शानदार गेंदबाजी करते हुए चौथे स्टंप पर फुलर गेंद फेकी ये गेंद बाहर की ओर निकली। पीटरसन ड्राइव करने गए, लेकिन गेंद ने बल्ले का बाहरी किनारा लिया और दूसरी स्लिप में मयंक अग्रवाल ने शानदार कैच लपका।

अगले ही ओवर में शार्दूल ने रैसी वान डेर डूसेन को (1 रन) पर आउट कर अफ्रीका को तीसरा झटका पहुंचाया। अफ्रीका ने एल्गर, पीटरसन और डूसेन के विकेट सिर्फ 14 रनों के अंदर गंवाए।

एल्गर ने नहीं उठाया जीवनदान का फायदा

26वें ओवर फेंक रहे जसप्रीत बुमराह की तीसरी गेंद पर एल्गर के खिलाफ भारत ने कीपर कैच की अपील की। हालांकि अंपायर निश्चित नहीं थे कि गेंद ने बाहरी किनारा लेकर बंप भी किया है, इसलिए उन्होंने सॉफ्ट सिग्नल आउट दिया है और थर्ड अंपायर के पास गए। रीप्ले में नजर आया कि गेंद बल्ले पर लगी ही नहीं थी। जमीन पर बैट लगने की आवाज आई थी और एल्गर आउट होने से बच गए। उस समय वह 11 के स्कोर पर बैटिंग कर रहे थे।

एल्गर मिले जीवनदान को बड़ी पारी में नहीं बदल सके। एल्गर 120 गेंदों पर 28 रन बनाकर पवेलियन लौटे। उनका विकेट शार्दूल ठाकुर के खाते में आया। विकेट के पीछे ऋषभ पंत ने एल्गर का शानदार कैच पकड़ा। दूसरे विकेट के लिए डीन एल्गर और कीगन पीटरसन ने 211 गेंदों में 74 रन जोड़े।

इसके बाद शार्दुल ने वान डर डुसेन (1) को भी जल्दी पवेलियन भेज दिया। इसके बाद तेम्बा बावुमा और वेरेन ने पांचवें विकेट के लिए 60 रन की साझेदारी की। शार्दुल ने वेरेन (21) को एलबीडब्ल्यू कर इस साझेदारी को तोड़ा।

इस बीच बावुमा ने टेस्ट करियर की 17वीं फिफ्टी लगाई। हालांकि, इसके बाद वह अपना विकेट गंवा बैठे। शार्दुल ने बावुमा (51) को पंत के हाथों कैच कराया। रबाडा को शून्य पर शमी ने सिराज के हाथों कैच कराया। इसके बाद केशव महाराज और मार्को जेन्सन ने आठवें विकेट के लिए 38 रन की साझेदारी की। बुमराह ने महाराज को क्लीन बोल्ड किया। उन्होंने 21 रन की पारी खेली। इसके बाद शार्दुल ने जेन्सन और एनगिडी को आउट कर दक्षिण अफ्रीका की पारी को 229 रन पर समेट दिया। शार्दुल ने सात विकेट झटके। इसके अलावा शमी को दो और बुमराह को एक विकेट मिला।

भारत की दूसरी पारी की शुरूआत अच्छी नहीं रही। मार्को जेन्सन ने टीम इंडिया को पहला झटका दिया। उन्होंने केएल राहुल को स्लिप में मार्करम के हाथों कैच कराया। राहुल 8 रन बनाकर आउट हो गए। वह अंपायर के फैसले से खुश नहीं थे। उनका मानना था एडेन मार्करम ने टप्पा खाने के बाद कैच लपका है। हालांकि, थर्ड अंपायार ने कहा कि उनके पास मैदानी अंपायर के फैसले को बदलने लायक पर्याप्त सबूत नहीं हैं। ऐसे में फील्ड अंपायर के सॉफ्ट सिग्नल (जो कि आउट था) को माना गया। 44 रन के कुल स्कोर पर भारत को दूसरा झटका लगा। मयंक अग्रवाल 37 गेंदों पर 23 रन बनाकर आउट हुए। उन्हें डुआने ओलिवियर ने एलबीडब्ल्यू आउट किया। दोनों ओपनर्स अब पवेलियन लौट चुके हैं। दूसरे दिन के खत्म होने तक चेतेश्वर पुजारा 35 रन और अजिंक्य रहाणे 11 रन बनाकर क्रीज पर हैं।


Share