100-120 आतंकवादी घुसपैठ की फिराक में : सेना

2 Hizbul terrorists killed
Share

श्रीनगर (एजेंसी)। पाकिस्तान की सीमा से 100-120 आतंकवादी भारतीय सीमा में घुसपैठ की फिराक में हैं, लेकिन बारामूला स्थित सेना के 19 वीं पैदल टुकड़ी उन पर पैनी नजर रखे हुए है। सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। बारामूला में नियंत्रण रेखा के पास गुरूवार को उरी सेक्टर के रास्ते कश्मीर घाटी में घुसने का प्रयास कर रहे तीन सशस्त्र घुसपैठियों को सुरक्षा बलों ने मार गिराया था।

सेना की 19वीं पैदल टुकड़ी के जनरल ऑफिसर कमांङ्क्षडग मेजर जनरल अजय चांदपुरी ने संवाददाताओं को बताया कि आतंकवादी लॉन्च पैड में मौजूद है और वे लगातार संघर्ष विराम का उल्लंघन कर भारतीय सीमा में घुसने का प्रयास कर रहे है।

उन्होंने कहा, कई जानकारी के आधार पर हमारा आकलन है कि किसी भी समय लगभग 100-120 आतंकवादी घुसपैठ करने का प्रयास कर सकते हैं। संंघर्ष विराम दोनों मुल्कों के लोगों के लिए अच्छा है। 19वीं इन्फैंट्री डिवीजन बारामूला में गुलमर्ग और उरी से हंदवाड़ा के नौगाम तक 100 किलोमीटर से अधिक की एलओसी की सुरक्षा करती है। मेजर जनरल ने कहा कि कि घुसपैठ की घटनाओं में लगातार गिरावट आ रही है।

उन्होंने कहा, जम्मू-कश्मीर में 740 किलोमीटर से अधिक लम्बी नियंत्रण रेखा है, जिसमें काफी दुर्गम इलाके है तथा इस मौसम भी काफी खराब रहता है। इसलिए सतर्कता के बावजूद, वहाँ नियमित अंतराल आतंकवादी घुसपैठ के प्रयास में लगे रहते हैं। उन्होंने बताया कि एलओसी पर तैनात जवानों ने कल उरी सेक्टर में आतंकवादियों को कुछ ही मिनट में स्पष्ट चेतावनी दी है। उन्होंने बताया कि मारे गए आतंकवादियों के पास से चीन निर्मित एक एम-16 नाइन एमएम कैलिबर हथियार बरामद किया गया था।


Share