राजस्थान में 10 से सख्त लॉकडाउन – 31 मई तक शादी समारोहों पर रोक

यूके के प्रधानमंत्री ने नए कोविड -19 संस्करण के प्रसार के रूप में कठोर लॉकडाउन लगाया
Share

जयपुर (कार्यालय संवाददाता)। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए गहलोत सरकार ने प्रदेश भर में 10 मई सुबह 5 बजे से 24 मई तक सख्त लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है। प्रदेश में 31 मई तक शादी समाराहों पर रोक लगा दी है। गहलोत मंत्रिपरिषद की बैठक में सख्त लॉकडाउन लगाने को मंजूरी दे दी है। गांवों में मनरेगा के काम बंद रहेंगे। 5 मंत्रियों की कमेटी ने 31 मई तक शादी समाराहों पर रोक लगाने और 24 मई तक सख्त लॉकडाउन लगाने की सिफारिश की थी। पांच मंत्रियों के ग्रुप ने मंत्रिपरिषद की बैठक में रिपोर्ट रखी जिस पर सहमति बन गई। सोमवार 10 मई से लॉकडाउन के नए प्रावधान लागू होंगे। इसमें पहले से चल रही पाबंदियों को और कड़ा किया जाएगा। निजी और रोडवेज बसों को भी बंद किया जाएगा। एक जिले से दूसरे जिले में आवागमन बंद किया जाएगा।

शादी समाराहों पर 31 मई तक पूरी रोक रहेगी। घर पर शादी या कोर्ट मैरिज की अनुमति होगी। शादी में 11 से ज्यादा लोग शामिल नहीं हो सकेंगे। किसी भी प्रकार के समारोह, डीजे, बारात, निकासी, प्रीतिभोज आदि की अनुमति 31 मई तक नहीं होगी। वेब पोर्टल पर शादी की अनुमत लेनी होगी। शादी में बैण्ड-बाजे, हलवाई, टैन्ट या इस प्रकार के अन्य किसी भी व्यक्ति के सम्मिलित होने की अनुमति नहीं होगी। शादी के लिए टैन्ट हाउस, हलवाई से संबंधित किसी भी प्रकार के सामान की होम डिलीवरी भी नहीं की जा सकेगी। मैरिज गार्डन, मैरिज हॉल एवं होटल परिसर को शादी-समारोह के लिए बंद रहेंगे। विवाह स्थल मालिकों, टैन्ट व्यवसायियों, कैटरिंग संचालकों और बैण्ड-बाजा वादकों आदि को एडवांस बुकिंग राशि आयोजनकर्ता को लौटानी होगी या बाद में आयोजन करने पर समायोजित करनी होगी।

गृह विभाग जल्द जारी करेगा नई गाइडलाइन

10 से 24 मई तक के सख्त लॉकडाउन की गृह विभाग अलग से गाइडलाइन जारी करेगा। नई गाइडलाइन में खुलने और बंद रहने वाली सेवाओं, दफ्तरों और दुकानों के बारे में ब्यौरा होगा। लॉकडाउन के दौरान बस, टैक्सी, बंद रहेंगी। आपातकालीन सेवाओं को छोड़ सभी सरकारी दफ्तर पहले की तरह ही बंद रहेंगे। बाजार बंद रहेंगे। लॉकडाउन में पहले की तरह ही फल, सब्जी, दूध, किराणा जैसे आम जरूरत की चीजें मिलती रहेगी।


Share