Thursday , 27 June 2019
Top Headlines:
Home » Rajasthan » हवाला व ऑनलाइन क्रिकेट सट्टा कारोबार करने वाली गैंग का पर्दाफाश

हवाला व ऑनलाइन क्रिकेट सट्टा कारोबार करने वाली गैंग का पर्दाफाश

सरगना समेत तीन गिरफ्तार
भीलवाड़ा (प्रात:काल संवाददाता)। भीलवाड़ा पुलिस ने लंबे समय से चल रहे ऑनलाइन क्रिकेट बेटिंग रैकेट का भंडाफोड़ करते हुए सरगना व उसके पाटर्नर सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है, जबकि एक अन्य आरोपित अभी फरार है। पुलिस ने बीएमडब्ल्यू और ऑडी जैसी दो लग्जरी कारों के साथ 19 लाख 11 हजार 439 रूपये की नगदी, 21 मोबाइल, लैपटॉप, एलईडी बरामद की है। इस गिरोह का कनेक्शन गुजरात से है, जबकि पुलिस नेपाल से भी गिरोह के संबंध होने की संभावना जता रही है। इस बड़ी कार्रवाई के बाद सटोरिये व हवाला कारोबार से जुड़े लोग भूमिगत हो चुके हैं। पुलिस अधीक्षक योगेश यादव ने पत्रकार वार्ता में गिरोह का खुलासा करते हुए बताया कि गिरोह का सरगना वैभवनगर निवासी कमल पुत्र सुगना मगनानी है, जबकि इसका पार्टनर ललित पुत्र ओमप्रकाश छतवानी है। इन दोनों के साथ ही इनके एक गुर्गे रजत को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। यह धरपकड़ पुलिस की चार विशेष टीमों ने रविवार को एक साथ छापामार कार्रवाई करते हुये की थी। लंबी पूछताछ के बाद इसका सोमवार को खुलासा किया गया है। एसपी यादव ने बताया कि यह गिरोह ऑनलाइन साइट फाइन एक्सचेंज, लोटस और डायमंड जैसी साइटों के जरिये एक आईडी लेकर और एंड्रॉयड एप्प के जरिये इस सट्टा कारोबार का संचालन कर रहा था। 1431 दिनों में 55 करोड़ का ट्रांजेक्शन
अब तक इनके लैपटॉप में 1431 दिनों का रिकॉर्ड मिला है जिसमें करीब 55 करोड़ के ट्रांजैक्शन किए और 28 से 29 करोड़ का लेनदेन अब तक हो चुका है। इनकी आईडी की अगर वैल्यू की बात की जाए तो 200 करोड़ की आईडी इस गिरोह ने भीलवाड़ा के बाजार में चला रखी है । मुख्य सरगना कमल जिन आईडियो का संचालन करता है उनकी संख्या शहर में अब तक 100 से ज्यादा सामने आई है जिसमें 60 एक्टिव आइडिया शामिल है। तीन साल से चल रहा था कारोबार
यह गिरोह पिछले 3 सालों से शहर में बड़ी ही चालाकी के साथ काम करते हुए युवा, नौजवानों को सट्टे के दलदल में धकेलने का काम कर रहा था। पहले 2 साल क्रिकेट सट्टे का कारोबार, जबकि बीते एक साल से यह गिरोह ऑनलाइन बेटिंग रैकेट चला रहा था। लगातार मुखबिरों की सूचना और इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी के जरिए पुलिस ने रविवार देर शाम को इस कार्रवाई को अंजाम दिया और सोमवार को इसका खुलासा किया।
50 लाख तक की गाडिय़ां, बड़े शहरों में फ्लैट
एसपी ने कहा कि अब तक की जानकारी में इन लोगों के पास बीएमडब्ल्यू और ऑडी जैसी 50-50 लाख रूपए कीमत की लग्जरी गाडिय़ां होने के साथ ही जयपुर सहित अन्य शहरों में फ्लैट, प्लॉट और लग्जरी ऑफिस होने की जानकारी मिली है। इन लोगों ने व्यापार की ओट में ऑफिस में अन्य तरह के व्यापार किए जाते हैं। 21 मोबाइल, 2 लग्जरी गाडिय़ों के साथ 19 लाख की नगदी बरामदइन शहरों में फैला है नेटवर्क
एसपी यादव ने बताया कि इस गिरोह के तार गुजरात के साथ ही प्रदेश के जयपुर, अजमेर, उदयपुर जैसे कई बड़े शहरों से जुड़े हुए हैं। यादव ने बताया कि ऑनलाइन बेटिंग मार्केट पर पहली बार भीलवाड़ा में इस कार्रवाई को अंजाम दिया गया है ऐसे में पुलिस ने गैंबलिंग एक्ट के साथ ही आईटी एक्ट, धोखाधड़ी, फर्जी दस्तावेज तैयार करने जैसे आरोपों से संबंधित धाराओं में मामला दर्ज किया जिसमें 10 साल तक की सजा का प्रावधान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.