Sunday , 24 March 2019
Top Headlines:
Home » India » ‘हमारा ऑपरेशन अभी खत्म नहीं’

‘हमारा ऑपरेशन अभी खत्म नहीं’

‘हमारा काम टारगेट हिट करना था, लाशें गिनना नहीं’
वायुसेना ने पाक को चेतायाचुनाव की घोषणा 9 के बाद ?
किसानों को दूसरी किस्त की मंजूरी 6 को मिलेगी !
कोयंबटूर (एजेन्सी)। भारतीय वायुसेना ने 26 फरवरी को पाकिस्तान के बालाकोट स्थित जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी कैंपों पर हवाई हमले किए थे। इस एयर स्ट्राइक पर भारत में नेता ही नहीं बल्कि अंतरराष्ट्रीय मीडिया भी सवाल खड़े कर चुकी है। इसी बीच सोमवार को वायुसेना प्रमुख बीएस धनोआ ने कोयंबटूर में प्रेस कांफ्रेंस की। उन्होंने कहा कि ऑपरेशन में कितने लोग मारे गए यह गिनना हमारा काम नहीं है।
सभी एयरक्राफ्ट दुश्मन से निपटने में सक्षम
एयर चीफ मार्शल ने कहा- योजनाबद्ध ऑपरेशन में आप प्लान करते हैं और इसे अंजाम देते हैं। लेकिन जब दुश्मन आप पर हमला करता है तो जो भी एयरक्रफ्ट मौजूद होते हैं उसी से हमले को अंजाम दिया जाता है। सभी एयरक्राफ्ट दुश्मन से निपटने में सक्षम हैं। मिग-21 एक सक्षम एयरक्राफ्ट है और इसे अपग्रेड किया गया है। उसका रडार, एयर-टू-एयर मिसाइल और हथियार सिस्टम काफी बेहतर है।
इसलिए हुआ मिग-21 विमान का इस्तेमाल
भारत ने जिस मिग-21 विमान के जरिए पाकिस्तान के एफ-16 विमान को मार गिराया है वह 1960 के दशक का है। मिग-21 के इस्तेमाल पर वायुसेनाध्यक्ष ने कहा कि क्यों नहीं करेंगे। मैं मौजूदा ऑपरेशन पर किसी तरह की कोई टिप्पणी नहीं कर सकता। ऑपरेशन अभी भी जारी है। मिग 21 बाइसन एक अच्छा विमान है। इसे अपग्रेड करके 3.5 जनरेशन का कर दिया गया है। दुश्मन पर कार्रवाई के समय जो भी विमान मौजूद होता है हम उसका इस्तेमाल करते हैं।
‘मारे गए लोगों को गिनना हमारा काम नहींÓ
एयर स्ट्राइक के बाद से लगातार यह सवाल उठ रहे हैं कि मारे गए आतंकियों की संख्या बताए जाए। इस पर एयर मार्शल धनोआ ने कहा कि भारतीय वायु सेना यह बताने की स्थिति में नहीं है कि हमले में कितने आतंकी मारे गए। इसके बारे में सरकार बताएगी। हमारा काम मारे गए लोगों को गिनना नहीं है। हम ये गिनते हैं कि हमने कितने टारगेट को निशाने पर लिया या नहीं।
‘जंगल में बम गिराए तो पलटवार क्योंÓ
वायुसेनाध्यक्ष ने विदेश सचिव के बयान का जिक्र करते हुए कहा कि लक्ष्य को लेकर विदेश सचिव अपने बयान में साफ तौर पर बता चुके हैं। अगर हमने किसी लक्ष्य को निशाना बनाने के लिए चुन लिया है तो हम ऐसा करते हैं, वरना वह (पाकिस्तान) प्रतिक्रिया क्यों देता। अगर हमने जंगल में बम गिराए तो उसने पलटवार क्यों किया।
पाकिस्तान ने गंवाया एफ-16 विमान
पाकिस्तान इस बात से इनकार करता रहा है कि उसने भारत के खिलाफ एफ-16 का इस्तेमाल किया है। (शेष पेज 8 पर)नई दिल्ली (एजेंसी)। अगले सात दिन में देश में आम चुनाव का ऐलान लगभग तय माना जा रहा है। चुनाव से ठीक पहले अंतिम समय में वोटरों को लुभाने की तमाम कोशिशें जारी हैं। सूत्रों के अनुसार, 9 मार्च के बाद कभी भी आम चुनाव का ऐलान हो सकता है। 8 मार्च तक प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कई सरकारी दौरे तय हैं। इससे पहले 6 मार्च को मोदी सरकार की अंतिम कैबिनेट मीटिंग भी होने वाली है। इसमें सरकार द्वारा किसानों के खाते में 2000 रूपये की दूसरी किस्त ट्रांसफर करने के फैसले को मंजूरी दी जा सकती है।
प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की पहली किस्त 24 फरवरी को जारी की गई थी। सूत्रों के अनुसार, चूंकि दूसरी किस्त नए वित्तीय वर्ष में जारी होगी, ऐसे में इसके आवंटन के लिए कैबिनेट की मंजूरी ली जाएगी और अप्रैल के पहले हफ्ते में ही किसानों को इसे जारी कर दिया जाएगा। आम चुनाव से पहले यह मोदी सरकार का किसानों को लुभाने का बड़ा दांव माना जा रहा है।
24 फरवरी को जब एक करोड़ किसानों को लाभ पहुंचाया गया, उनमें लगभग 40 लाख किसान सिर्फ उत्तर प्रदेश के हैं। इसके लाभार्थियों की सबसे ज्यादा संख्या उत्तर प्रदेश, महाराष्ट्र और आंध्र प्रदेश के किसानों की है। प्र.म. मोदी ने खासकर विपक्षी राज्यों पर आरोप भी लगाया कि वे जानबूझकर किसानों की लिस्ट नहीं दे रहे हैं। इसके अलावा बुधवार को कैबिनेट मीटिंग में कुछ और अहम फैसलों पर भी मुहर लग सकती है। उसी दिन प्रगति समीक्षा मीटिंग भी होगी, जिसमें सभी राज्यों के चीफ सेक्रेटरी भाग लेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.