Wednesday , 17 July 2019
Top Headlines:
Home » Political » स्पीकर को सुको से वक्त, पर बांधे हाथ

स्पीकर को सुको से वक्त, पर बांधे हाथ

नई दिल्ली (एजेंसी)। कांग्रेस-जेडीएस के बागी विधायकों और कर्नाटक विधानसभा के स्पीकर की याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार तक यथास्थिति बरकरार रखने का आदेश दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने स्पीकर को विधायकों के इस्तीफे पर फैसला लेने के लिए मंगलवार तक का वक्त दिया है। अब मामले में उसी दिन अगली सुनवाई होगी। कोर्ट ने आदेश दिया है कि तब तक यथास्थिति बरकरार रहेगी। इसका सीधा सा मतलब है कि स्पीकर तब तक विधायकों को अयोग्य भी नहीं ठहरा सकते। कांग्रेस ने बागी विधायकों को अयोग्य ठहराने के लिए स्पीकर के पास याचिका दी है। इससे पहले गुरूवार को कोर्ट ने उसी दिन स्पीकर को इस्तीफों पर फैसला लेने को कहा था।
चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुआई वाली बेंच ने संबंधित पक्षों की दलीलों को सुना। बागी विधायकों के वकील मुकुल रोहतगी ने स्पीकर पर जानबूझकर इस्तीफों पर फैसले में देरी का आरोप लगाया। जवाब में स्पीकर रमेश कुमार की तरफ से पेश हुए वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने उन्हें प्राप्त विशेषाधिकारों का हवाला देते हुए कहा कि इस्तीफों पर फैसले से पहले स्पीकर उसके कारण को लेकर पहले संतुष्ट होना चाहते हैं।
10 बागी विधायकों ने कोर्ट से मांग की है कि वह स्पीकर को निर्देश दें कि उनके इस्तीफे स्वीकार किए जाएं। दूसरी तरफ स्पीकर ने विधायकों के खिलाफ डिस्क्वॉलिफिकेशन पिटिशन का हवाला देते हुए इस्तीफे पर फैसले के लिए और ज्यादा वक्त की मांग की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*