Thursday , 18 October 2018
Top Headlines:
Home » Udaipur » सुविवि में एबीवीपी, दूसरे नम्बर पर बागी ने मारी बाजी

सुविवि में एबीवीपी, दूसरे नम्बर पर बागी ने मारी बाजी

हिमांशु बागड़ी बने अध्यक्ष
एबीवीपी के बागी सुखदेव डांगी ने एनएसयूआई के महेश रोत को तीसरे स्थान पर धकेला
उदयपुर। मोहनलाल सुखाडिय़ा विश्वविद्यालय पर एक बार फिर से एबीवीपी ने अपना परचम लहराया है। एबीवीपी ने महासचिव पद पर भी कब्जा किया है। इस मुकाबले में एबीवीपी से बागी होकर मैदान में उतरे सुखदेव डांगी एनएसयूआई के महेश रोत को तीसरे स्थान पर धकेल दिया। इस चुनाव में हिमांशु बागड़ी को 3556 वोट मिले और बागड़ी के निकटवर्ती प्रत्याशी सुखदेव डांगी को 2773 वोट मिले। बागड़ी 783 वोटों से विजय रहे। महेश रोत को कुल उतने ही वोट मिले, जितने वोटों के अंतर से हिमांशु बागड़ी जीता है। हिमांशु की जीत के लिए दिन-रात एक कर देने वाले युवा मोर्चा के नेताओं में भी खुशी का माहौल है।
इस बार छात्रसंघ चुनाव में सीधी टक्कर एबीवीपी के प्रत्याशी हिमांशु बागड़ी और एबीवीपी से बागी सुखदेव डांगी के बीच में थी। इस चुनाव में एनएसयूआई के प्रत्याशी महेश रोत तो दूर-दूर तक दौड़ में नहीं था। प्रचार के दौरान भी हिमांशु बागड़ी और सुखदेव डांगी के बीच में ही टक्कर दिखाई दे रही थी और दोनों ने जी-जान से प्रचार किया था। सोमवार को समय पर मतपेटियों को मतगणना केन्द्र में लाकर रख दिया गया। मंगलवार सुबह 11 बजे से मतगणना का दौर शुरू हुआ।
महाविद्यालयो में मतगणना के करीब एक घंटे बाद ही रूझान आने शुरू हो गए। जिसमें अधिकांश कॉलेजों में बागियों के आगे चलने के रूझान आने लगे। इसके दोपहर तक तो स्पष्ट हो गया कि सुविवि के कामर्स कॉलेज में अर्पित कोठारी, आट्र्स कॉलेज से भाग्योदय सोनी और विज्ञान कॉलेज से दीपक गुर्जर जीत गए है। इधर सुविवि केन्द्रीय छात्रसंघ अध्यक्ष पर दोपहर बाद जब सभी मतों को अलग-अलग कर मतगणना शुरू हुई। दोपहर को दो बजे से रूझान आने शुरू हुए। जिसमें पहले तो बागी सुखदेव डांगी आगे चल रहा था। अचानक बाद में धीरे-धीरे हिमांशु बागड़ी दौड़ में आगे निकल गया और बागड़ी व डांगी के बीच में मतों का अंतर बढ़ता ही रहा। दोपहर को दो बजे अंतर तो 400 से अधिक हो गया। जब शाम को फाईनल लिस्ट की घोषणा की तो हिमांशु बागड़ी 783 वोट से विजयी रहे। इस चुनाव में हिमांशु बागड़ी को 3556, सुखदेव डांगी 2773 और एनएसयूआई के महेश रोत को 781 वोट मिले। इसमें 209 वोट नोटा को मिले और 157 वोट निरस्त हो गए। इधर उपाध्यक्ष पद पर निर्दलयी अरविंद सिंह चुण्डावत 2108 वोट प्राप्त विजय रहे। महासचिव पर पद एबीवीपी पदï्मसिंह देवड़ा 3151 वोटों के साथ और संयुक्त सचिव पर निर्दलीय सुनील पहाडिय़ा 2242 वोटों के साथ विजय रहे।
जैसे ही शाम को अधिकारिक रूप से एबीवीपी के प्रत्याशी हिमांशु बागड़ी की जीत की घोषणा की तो एबीवीपी के प्रत्याशियों और समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ गई और विवि के मुख्य द्वार के बाहर ही नारेबाजी करनी शुरू कर दी। पुलिस ने हंगामा कर रहे लोगोंं को वहां से खदेड़ दिया। इधर हिमांशु बागड़ी की जीत के बाद पुलिस अधिकारियों ने उसे पुलिस जीप में बैठाकर पीछे के रास्ते से बाहर निकालकर उसके घर पर छोड़ दिया। इस दौरान एबीवीपी के पदाधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.