Friday , 24 May 2019
Top Headlines:
Home » Udaipur » सिंधी बाजार में टेलर मास्टर के बेटे की चाकू से गोदकर हत्या

सिंधी बाजार में टेलर मास्टर के बेटे की चाकू से गोदकर हत्या

दुकान मालिक के भतीजे ने दुकान विवाद के चलते की वारदात
नगर संवाददाता & उदयपुर
सिंधी बाजार में किराये की दुकान को लेकर चल रहे विवाद पर बुधवार रात टेलर मास्टर के बेटे की दुकान मालिक के भतीजे ने चाकू से गोदकर नृशंस हत्या कर दी। दुकान के चारों तरफ खून बिखरा पड़ा था।
मिली जानकारी के अनुसार हिरणमगरी सेक्टर पांच गायत्री नगर निवासी देवेन्द्रसिंह उर्फ कान्हा तंवर (30) अपने पिता सतपाल सिंह तंवर के साथ सिंधी बाजार में एस कुमार टेलर के नाम से सिलाई का कार्य करते थे। दोनों पिता-पुत्र हमेशा की तरह बुधवार को भी सिलाई का कार्य कर रहे थे। शाम करीब साढ़े सात-पौने आठ बजे दुकान मालिक उदयसिंह मेहता का भतीजा राजकुमार उर्फ प्रिंस आया और कहने लगा कि दुकान का क्या मामला चल रहा है। इस पर सतपाल ने कहा कि मामला कोर्ट में विचाराधीन है। इस बीच कुछ देर तक उससे बात की, बाद में काफी देर तक वह दुकान के इर्दगिर्द मंडराता रहा और कह रहा था कि मुझे केबल वाले को पेमेंट करनी है कब आएगा तो इन्होंने कहा कि हमें नहीं पता। इसी दौरान सतपाल सिंह लघुशंका करने गया तो आरोपी प्रिंस जबरन दुकान में घुसा और देवेन्द्र पर ताबड़तोड़ चाकू से वार करना शुरू कर दिया। पेट में चार-पांच वार लगे जिसमें से एक वार पसलियों के आरपार हो गया। इसी दौरान पिता लघुशंका करके आए तो बेटे को खून से लथपथ हालत में पड़ा देखा तो अन्य लोगों की मदद से ऑटो में डालकर अस्पताल लाए जहां आपातकालीन इकाई में मौजूद चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।
इस बीच सूचना मिलने पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शहर रामस्वरूप मेवाड़ा, पुलिस उप अधीक्षक राजीव जोशी, आईपीएस प्रशिक्षु व विभिन्न थानाधिकारी भी अस्पताल पहुंच गये। मृतक के पिता से पूरी घटना की जानकारी ली और उसके बाद पुलिस टीम अलग-अलग रवाना की। शव को एमबी चिकित्सालय के मुर्दाघर में रखवाया। पोस्टमार्टम की कार्यवाही गुरुवार को होगी। उल्लेखनीय है कि सिंधी बाजार काफी भीड़भाड़ वाला क्षेत्र है। यहां पर हर तरफ दुकानें ही दुकाने है और इस मार्केट में हर समय ग्राहकों की भीड़ रहती है व वाहनों की आवाजाही रहती है। हत्या की घटना के बाद घटनास्थल पर भीड़ इक_ा हो गई और यातायात जाम हो गया। मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने लोगों को वहां से हटाया और यातायात को धीरे-धीरे बहाल किया। हत्या की वारदात से क्षेत्रवासियों में खौफ बना हुआ है। बताया गया है कि राजकुमार उर्फ प्रिंस को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।
घर का इकलौता चिराग बुझा : कान्हा तीन बहनों का इकलौता भाई था और बेटे की मौत से पिता पूरी तरह टूट गया था। मुर्दाघर के बाहर फूट-फूटकर रोते हुए सतपाल ने बताया कि कान्हा का विवाह 2009 में हुआ था और उसकी सबसे बड़ी बेटी सात वर्ष की है और एक वर्ष का बेटा है।चालीस वर्षो से कर रहा दुकान
टेलर मास्टर सतपाल ने बताया कि विगत चालीस वर्षो से दुकान में व्यवसाय कर रहा है और आज तक कभी किसी से विवाद का कोई कारण नहीं बना। ग्राहकों से भी किसी तरह की लड़ाई नहीं हुई। दुकान मालिक जरूर दुकान खाली करवाने के लिए कह रहा था लेकिन आपस में मामला नहीं सुलझने पर अदालत में पहुंच गया और दो वर्षो से मामला अदालत में विचाराधीन है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.