Friday , 24 May 2019
Top Headlines:
Home » Udaipur » सलूम्बर : लूटपाट की नीयत से वृद्ध की हत्या

सलूम्बर : लूटपाट की नीयत से वृद्ध की हत्या

हाथ पैर बांध कर तौलिये से दबाया मुंह
नगर संवाददाता & उदयपुर/सलूम्बर, जिले के सलूम्बर थाना क्षेत्र में अकेले रह रहे जैन समाज के एक वृद्ध के हाथ-पांव बांधकर गला दबाकर हत्या कर हत्यारे मृतक के कमरे में रखी तिजोरी को तोड़कर अंदर से जेवरात और नकदी चोरी कर ले गए। मृतक अपने दोनों पुत्रों से अलग रहता था और लोगों को ब्याज पर पैसे देने का काम करता था। जिसके कई दस्तावेज पुलिस को कमरे से बरामद हुए है। घटना के बाद मौके पर उदयपुर से पुलिस अधिकारियों के साथ-साथ डॉग स्क्वायड और एफएसएल टीम भी आई और मौके से साक्ष्य एकत्रित किए।
पुलिस सूत्रों के अनुसार वीरचंद (88) पुत्र जगन्नाथ हीरावत जैन निवासी पासवान हवेली माहेश्वरी मोहल्ला रात्रि को अपने कमरे में सोया था। यह रात को खाना खाने के बाद बर्तनों को बाहर रख देता था। इस हवेली में किराए से रहने वाली सरोज पत्नी अजय व्यास ने हमेशा की तरह नल का पानी भरने के लिए मृतक को आवाज लगाई। कमरे से कोई जवाब नहीं मिलने पर सरोज ने दरवाजा धकेला। अंदर खाट पर वीरचंद के शव को देखकर चौक गई। सरोज ने अन्य किरायेदारों को बुला कर स्थिति से अवगत कराया। मृतक के परिजनों को फोन कर मौके पर बुलाया। इस बीच सूचना पर थानाधिकारी रामेश्वरलाल जाब्ते के साथ मौके पर पहुंचे और उच्चाधिकारियों को बताया। इस पर मौके पर डिप्टी नारायणसिंह, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक दशरथसिंह भी पहुंच गए। मौके पर काफी संख्या में लोगों और जैन समाज के लोगों के एकत्रित होने के कारण पुलिस अधिकारियों ने आस-पास थानों से जाब्ता मंगवाया। इसके बाद तलाशी ली तो सामने आया कि मृतक के हाथ-पांव दोनों बांधे हुए थे और तकिए से मुंह दबाकर उसकी हत्या की गई थी।
जिस कमरे में वृद्ध की हत्या की गई उसमें सामान बिखरा पडा था। बदमाशों ने अलमारी, लोहे की पेटी खोल दी एवं कपडे सहित अन्य सामान भी बिखेर दिया। आशंका जताई जा रही है कि रात्रि को बदमाश चोरी की नीयत से आए होंगे और मृतक के जाग जाने से बदमाश ने उसकी हत्या कर दी। मृतक की पत्नी की पूर्व में मौत हो चुकी है। उसके दो पुत्र है जो नगर में ही अलग-अलग मकान पर रहते है। जबकि मृतक अकेला माहेश्वरी मोहल्ला स्थित अपने मकान पर रहता था। जिससे चोरी गए माल का पता नहीं लग पाया है। मृतक लोगों को ब्याज पर रूपया उधार देने का व्यवसाय करता था। घटना स्थल से पुलिस ने करीब आधा दर्जन बहियों के साथ ही विभिन्न बैंक खातों की पासबुक, चैकबुक व अन्य दस्तावेज भी बरामद किये है। पुलिस ने मौके पर एफएसएल और डॉग स्क्वायड को भी बुलाया। मौके पर आकर साक्ष्य भी बरामद किए। शव को स्थानीय राजकीय सामान्य अस्पताल पहुंचाया। जहां मुर्दाघर में तीन चिकित्सकों के मेडीकल बोर्ड ने शव का पोस्टमार्टम किया। मृतक के छोटे बेटे स्थानीय माना की सैर निवासी कन्हैयालाल जैन की रिपोर्ट पर पुलिस ने अज्ञात बदमाश के विरूद्ध केस दर्ज कर जांच शुरू की है। पुलिस विभिन्न पहलुओं से मामले की जांच में जुटी है। प्रथम दृष्टया चोरी की नियत से ही हत्या करने की आषंका जताई जा रही है।पुत्रों के खिलाफ भी दी थी रिपोर्ट
पुलिस जांच में सामने आया कि मृतक की उसके पुत्रों से नहीं बनने के कारण वह अलग रह रहा था। कुछ समय पूर्व मृतक ने उसके पुत्रों के खिलाफ खाना नहीं खिलाने की रिपोर्ट भी दी थी। इसके बाद दोनों पुत्रों ने उसे टिफिन देना शुरू किया था। एक पुत्र सुबह टिफिन देता और एक शाम को लाकर देता था।
कई लोगों को दे रखे है ब्याज पर पैसे
पुलिस के अनुसार मृतक ने कई लोगों को ब्याज पर पैसे दे रखे है और इसके एवज में जेवरात और स्टॉम्प ले रखे थे। जिनमें से जेवरात सारे गायब है और नकद पैसे भी गायब है। हालत यह है कि मृतक के पुत्रों को भी यह नहीं पता है कि उसके पिता ने किसे कितने पैसे उधार दे रखे है।
रात्रि को साउण्ड बजने के कारण पता नहीं चला
इधर रात्रि को कस्बे में कई स्थानों पर शादियां, महिला संगीत होने के कारण बिंदोलियां निकल रही थी। जिससे तेज आवाज हो रही थी। इसी कारण मृतक के कमरे के पास में रहने वाले को भी इस बारे में पता नहीं चला था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.