Sunday , 20 October 2019
Top Headlines:
Home » Sports » शिखर भुवी अश्विन ने की मियामी हीट््स के साथ मस्ती

शिखर भुवी अश्विन ने की मियामी हीट््स के साथ मस्ती

shikhar_bhuvi_ashwinफ्लोरिडा। अमेरिका दौरे पर पहुंची भारतीय क्रिकेट टीम के खिलाडिय़ों शिखर धवन, रविचंद्रन अश्विन और भुवनेश्वर कुमार ने वेस्टइंडीज के खिलाफ दो ट््वंटी 20 मैचों की सीरीज से पहले यहां बास्केटबॉल टीम मियामी हीट््स के साथ कुछ समय बिताया।
भारत और वेस्टइंडीज की टीमें टेस्ट सीरीज के बाद सीधे अमेरिका पहुंची हैं जहां फोर्ट लॉउडेरडेल शहर में दोनों टीमों के बीच 27 और 28 अगस्त को दो ट््वंटी 20 मैचों की अंतरराष्ट्रीय सीरीज खेली जानी है। अमेरिका में भी क्रिकेट को लोकप्रिय करने के मकसद से यहां यह सीरीज कराई जा रही है।
सीरीज से पहले भारतीय टीम के अनुभवी आफ स्पिनर अश्विन, तेज गेंदबाज भुवनेश्वर और बल्लेबाज धवन ने अमेरिकी पेशेवर बास्केटबाल टीम मियामी हीट््स से मुलाकात की। टीम के नये खिलाडिय़ों टाइलर जानसन और ब्रियांटे वेबर ने तीनों खिलाडिय़ों को बास्केटबॉल के कुछ गुर भी सिखाये।
मियामी हीट््स के घरेलू मैदान द अमेरिकन एयरलाइन्स एरिना में भारतीय खिलाडिय़ों ने लॉकर रूम, जिमनास्यियम का भी रूख किया और फिर पांचों खिलाडिय़ों ने मिलकर बास्केटबॉल पर हाथ आजमाया।
भारतीय टीम के अन्य खिलाडिय़ों ने अपने अपने अंदाज में अमेरिका की सैर की। कई खिलाडिय़ों ने शॉङ्क्षपग की तो कुछ खिलाडिय़ों ने होटल में रूककर आराम किया। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने खिलाडिय़ों की तस्वीरें साझा की हैं।
भारतीय टीम कैरेबियाई दौरे से मंगलवार सुबह अमेरिका पहुंची हैं जबकि सीमित ओवर कप्तान महेंद्र ङ्क्षसह धोनी अन्य खिलाड़ी जसप्रीत बुमराह के साथ अमेरिका पहुंचे हैं।
भुवनेश्वर ने अपने अनुभव को लेकर कहा, मुझे यहां आकर मजा आया और इन खिलाडिय़ों से मिलकर बहुत अच्छा लगा। मैं यहां मिलने वाली सुविधाओं से बहुत प्रभावित हूं। यह हमारे लिये अच्छा अनुभव है कि किस तरह से खेल और तकनीक मिलकर काम करते हैं।
मियामी हीट््स एरिना में अपने अनुभव को लेकर आफ स्पिनर अश्विन ने कहा, मैंने स्कूल के दिनों में बास्केटबाल खेला है और जब मैंने यहां इन खिलाडिय़ों को देखा तो मैं अपने स्कूल के दिनों में चला गया। मैंने कुछ हाथ भी आजमाया। मैं वेबर और जानसन का शुक्रगुजार हूं जिन्होंने हमें टर्फ दिखाने में कुछ समय बिताया।
वहीं धवन ने कहा, मेरे लिये यह बहुत मजेदार था। मैं यहां आकर बहुत खुश हूं। हमने यहां देखा कि खेल और तकनीक बहुत बदल गये हैं। उन्होंने हमें बास्केटबॉल सिखाया तो मैंने उन्हें क्रिकेट के बारे में समझाया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*