Friday , 19 October 2018
Top Headlines:
Home » Business » रिजर्व बैंक से पहले बैंकों ने महंगा किया लोन

रिजर्व बैंक से पहले बैंकों ने महंगा किया लोन


मुंबई। मॉनिटरी पॉलिसी कमिटी (एमपीसी) की मीटिंग से पहले लगातार तीसरी बार बैंकों ने ब्याज दरों में बढ़ोतरी कर दी है। माना जा रहा है कि एमपीसी कमिटी की मीटिंग में इस हफ्ते ब्याज दरों में बढ़ोतरी का ऐलान होगा, लेकिन एसबीआई, आईसीआईसीआई, पीएनबी और एचडीएफसी ने उससे पहले ही लोन महंगा कर दिया है। 
देश के सबसे बड़े बैंक एसबीआई ने मार्जिन कॉस्ट ऑफ फंड बेस्ड लेंडिंग रेट (एमसीएलआर) में 0.05′ की बढ़ोतरी की। उसकी नई दरें सोमवार से लागू हो गई हैं। वहीं, प्राइवेट सेक्टर के आईसीआईसीआई बैंक ने एमसीएलआर में 0.1′ का इजाफा किया है। 
शनिवार को पीएनबी ने शॉर्ट टर्म लोन के लिए मार्जिनल कॉस्ट ऑफ फंड बेस्ड लेंडिंग रेट को 0.2′ बढ़ाया था। देश की सबसे बड़ी होम लोन कंपनी एचडीएफसी ने भी रिटेल प्राइस लेंडिंग रेट (आरपीएलआर) में तत्काल प्रभाव से 0.10′ की बढ़ोतरी की है। अलग-अलग स्लैब के लोन के लिए नई दरें 8.80 से 9.05′ के बीच होंगी। 
ब्याज दरों का पारंपरिक तरीका यह रहा है कि रिजर्व बैंक के पॉलिसी रेट में बदलाव करने के बाद बैंक इंटरेस्ट रेट की समीक्षा करते थे। हालांकि, इधर लगातार तीसरी बार मॉनेटरी पॉलिसी से पहले बैंकों ने ब्याज दरों में बढ़ोतरी की है। 
रिजर्व बैंक की एमपीसी की मीटिंग शुक्रवार, 5 अक्टूबर को होने वाली है। माना जा रहा है कि इसमें ब्याज दरों को बढ़ाने का ऐलान किया जा सकता है। 
इससे पहले अगस्त की पॉलिसी मीटिंग में रिजर्व बैंक ने रेपो रेट में 0.25′ की बढ़ोतरी की थी। इसके साथ पॉलिसी रेट 6.50′ हो गया था। रूपये में गिरावट और कच्चे तेल के दाम में तेजी को देखते हुए रिजर्व बैंक ब्याज दरों में बढ़ोतरी कर रहा है। उसका मानना है कि रूपये की वैल्यू कम होने और तेल के इंपोर्ट बिल में बढ़ोतरी से महंगाई पर दबाव बढ़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.